Loading...    
   


मध्यप्रदेश में गणतंत्र दिवस समारोह के लिए गाइडलाइन - Guidelines for Republic Day celebrations in Madhya Pradesh in Hindi

भोपाल
। मध्य प्रदेश शासन के सामान्य प्रशासन विभाग ने 26 जनवरी 2021 गणतंत्र दिवस समारोह के लिए गाइडलाइन जारी कर दी है। पूरे प्रदेश में समारोह धूमधाम से मनाया जाएगा लेकिन कोरोनावायरस संक्रमण के चलते समारोह में स्कूली बच्चों को शामिल नहीं किया जाएगा। जिला मुख्यालय की परेड में एनसीसी, स्काउट एवं एनएसएस के कैंडिडेट्स भाग नहीं लेंगे। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं लोकतंत्र सेनानियों का सम्मान उनके घर पर जाकर किया जाएगा। हम यहां बिंदुवार पूरी गाइडलाइन प्रकाशित कर रहे हैं (जो मध्य प्रदेश के समस्त कलेक्टर को जारी की गई) कृपया ध्यानपूर्वक पढ़ें:-

दिनांक 26 जनवरी 2021 को गणतंत्र दिवस का कार्यक्रम आयोजित किया जाना है। इस वर्ष नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के कारण कार्यक्रमों की रूपरेखा निम्नानुसार होगी।
1/ राष्ट्रीय ध्वज फहरानाः- राष्ट्रीय ध्वज राज्य के समस्त महत्वपूर्ण शासकीय भवनों एवं ऐतिहासिक स्थानों पर फहराया जाएगा।

2/ राजधानी भोपालः
(2.1) सलामी:- 26 जनवरी 2021 गणतंत्र दिवस समारोह का आयोजन लाल परेड ग्राउंड भोपाल में होगा। उक्त कार्यक्रम प्रातः 9.00 बजे आयोजित किया जाएगा जिसमें मुख्य अतिथि परेड की सलामी लेगें तथा उपस्थित जनसभा को संबोधित करेगें। 
(2.2) परेड:- परेड का आयोजन पिछले वर्ष की भांति किया जाएगा जिसमें पुलिस होमगार्ड, विशेष सशस्त्र बल, जेल वार्डन, सी.आई.एस.एफ., आर.ए.एफ. की टुकडियां होगी। परेड में एन.सी.सी. एवं एन.एस.एस. एवं स्काउट गाईड, शौर्यदल शामिल नहीं होगें। परेड के पश्चात घुडसवारी का प्रदर्शन होगा।
(2.3) इसके पश्चात झांकियां निकाली जायेंगी।
(2.4) गणतंत्र दिवस समारोह स्थल पर गुब्बारे उड़ाए जाएंगें।

3/ जिला मुख्यालय: 
(3.1) जिला मुख्यालयों पर गतवर्षानुसार मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण एवं माननीय मुख्यमंत्री जी के संदेश का वाचन किया जाएगा तथा परेड इत्यादि का आयोजन किया जाएगा। परेड जिला मुख्यालयों के अतिरिक्त अन्य स्थानों पर नहीं होगी। परेड मे एन.सी.सी. एवं एन.एस.एस. एवं स्काउट गाईड, शौर्यदल आदि कोविड-19 के मद्देनजर भाग नहीं लेगें। 
(3.2) गत वर्षानुसार झांकियां निकाली जाएगी।
(3.3) शिक्षण संस्थाओं में ध्वजारोहण, राष्ट्रगान का आयोजन किया जाए। कार्यक्रम में बच्चों को शामिल नहीं किया जाएगा। 
(3.4) जिला पंचायत कार्यालयों में प्रशासनिक समिति प्रधान द्वारा औपचारिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा तथा राष्ट्रीय गान होगा। 

जनपद एवं ग्राम पंचायत/नगर निगम, नगर पालिका एवं नगर पंचायत 
(4.1) जनपद पंचायत कार्यालय में प्रशासकीय समिति प्रधान द्वारा औपचारिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा तथा कार्यक्रम में राष्ट्रीय गान गाया जाएगा। 
(4.2) ग्राम पंचायत कार्यालय में प्रशासकीय समिति प्रधान द्वारा औपचारिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा तथा कार्यक्रम में राष्ट्रीय गान गाया जाएगा। 
(4.3) ऐसे जिला पंचायत/जनपद पंचायत/ ग्राम पंचायत जहां प्रशासकीय समिति के प्रधान उपलब्ध नही होने की दशा मे कार्यालय प्रमुख द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा। 
(4.4) नगर निगम, नगर पालिका एवं नगर परिषद कार्यालय मे महापौर/अध्यक्ष (जहां निर्वाचित महापौर और अध्यक्ष कार्यरत हैं) द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा। शेष नगरीय निकायों मे आयुक्त/मुख्य नगर पालिका अधिकारी द्वारा ध्वजारोहण किया जावेगा। 

5/ ध्वज संहिता का पालन सुनिश्चित कराने के लिये प्रत्येक स्तर पर संबंधित अधिकारियों की जवाबदेही सुनिश्चित की जाए।
6/ कार्यक्रम स्थल पर प्राथमिक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य की आवश्यक व्यवस्था अनिवार्य रूप से की जाए। 
7/ कार्यक्रम स्थल पर हैण्ड सेनेटाइजर, मास्क एवं सामाजिक दूरी आदि का विशेष ध्यान रखा जाए। आमंत्रितगण की सूची तदनुसार निर्धारित की जावे। 
8/ विभिन्न समाचार पत्रों में गणतंत्र दिवस पर जारी किए जाने वाले विज्ञापनों को स्वतंत्रता संग्राम के संदेशों पर केन्द्रित किया जाएगा एवं विज्ञापनों को इस प्रकार नियोजित किया जाए कि 26 जनवरी 2021 को प्रदेश के समाचार पत्रों में शहीदों जिसमें मध्यप्रदेश के शहीद भी शामिल हों, के सम्बन्ध में संदेश प्रसारित हों। 
यह गाइडलाइन भोपाल समाचार डॉट कॉम द्वारा उपलब्ध कराई गई है। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए पढ़ते रहिए।
9/ नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के संबंध में जारी भारत सरकार, गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा कोविड-19 से संबंधित सभी दिशा-निर्देशों एवं राज्य शासन द्वारा समय समय पर जारी किए गए निर्देशों का कडाई से पालन सुनिश्चित किया जाए।

दिनांक 26 जनवरी, 2021 को गणतंत्र दिवस का कार्यक्रम आयोजित किया जाना हैइस वर्ष नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए राज्य शासन द्वारा निर्णय लिया गया है कि जिले के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों/ लोकतंत्र सेनानियों को उनके घर जाकर शाल एवं श्रीफल से सम्मानित करने का कष्ट करें।
( डी. के. नागेन्द्र ) उप सचिव मध्यप्रदेश शासन सामान्य प्रशासन विभाग दिनांक 11/01/2021

12 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here