Loading...    
   


आशा कार्यकर्ता की कोरोना ड्यूटी के दौरान मौत, डंपर पीछे से आया और कुचल गया - MP NEWS

ग्वालियर
। भितरवार जनपद पंचायत के बामौर गांव में कोरोना संक्रमित पाए जाने पर सौंपी गई जिम्मेदारी को पूरा करने लिए जा रही कोरोना योद्धा आशा सहयोगनी महिला कर्मचारी को रेत माफिया के डंपर ने कुचला डाला जिससे घटनास्थल पर ही उनकी दर्दनाक मृत्यु हो गई।

जानकारी के अनुसार सामुदायिक अस्पताल भितरवार में आशा सहयोगिनी के रूप में पदस्थ संगीता जोशी (32) पत्नी हेमंत जोशी निवासी ग्राम केरूआ हाल निवास वार्ड क्रमांक 6 भितरवार गुरुवार की दोपहर करीब 12 बजे ग्राम बामौर में पिछले दिनों कोरोना संक्रमित पाए गए। युवक की जांच एवं उसके परिजनों की स्वास्थ्य संबधी जानकारी के लिए अपनी स्कूटी से जा रही थी। 

तभी सहारन गुरुद्वारे और आदमपुर ग्राम की पुलिया के बीच भितरवार हरसी मुख्य सडक़ मार्ग पर अपनी साइट पर जा रही स्कूटी सवार आशा सहयोगिनी को पीछे से आ रहे गिट्टी से भरे हुए डंपर क्रमांक एमपी 07 एचबी 3560 के चालक ने लापरवाही से चलाते हुए पीछे से टक्कर मार दी, जिससे आशा सहयोगिनी के सिर में गंभीर चोट आने से घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। 

घटना के तत्काल बाद स्थानीय लोगों द्वारा भितरवार पुलिस एफआर वी को सूचना दी, सूचना लगते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मौके से फरार हुए डंपर के संबंध में बेलगढ़ा पुलिस को सूचना दी, जिस पर थाना प्रभारी राधेश्याम शर्मा ने नाकेबंदी करते हुए घटना को अंजाम देकर घबराकर भागे डंपर को चालक सहित पकड़ लिया। 

वही घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने मौके का पंचनामा बनाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए सामुदायिक अस्पताल भितरवार भिजवाया, जहां उनका पोस्टमार्टम कर शव परिजनों के सुपुर्द किया गया। 

27 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here