Loading...    
   


जैसे गंगा के लिए काम किया, अब गाय के लिए करूंगी: उमा भारती ने कहा - MP NEWS

जबलपुर
। अल्प प्रवास पर आज सुबह कटनी पहुंचीं बीजेपी की फायर ब्रांड नेता उमा भारती ने अपनी आगामी योजना का ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि जिस तरह पहले तिरंगा और गंगा के लिए काम किया था, अब गाय के लिए काम करूंगी। पूर्व मंत्री उमा भारती ने कहा कि भगवान ने उन्हे इसके लिए इशारा किया है। शायद यही भगवान कार्तिक की प्रेरणा है।

पत्रकारों से बात करते हुए उमा भारती ने कहा कि चतुर्दशी और पूर्णिमा आज दोनों है। आज पूरी पूर्णिमा है। कार्तिक पूर्णिमा पर अमरकंटक में थी। वहां पर कार्तिक स्वामी की प्रतिमा है। चतुदर्शी की रात महत्वपूर्ण है। कार्तिक स्वामी ने चतुर्दशी के दिन ही दैत्यों पर विजय प्राप्त की थी। 

उमा भारती को गाय के लिए अभियान की प्रेरणा कहां से मिली

यहां एक बड़ी अद्भुत घटना हुई। मैं कल जंगल में घूमने निकली पैदल। मैंने अपनी फोर्स को कम कर दिया। हमें जंगल में कुछ लोग मिले। वहां एक गाय बच्चे को जन्म देने वाली थी। मुझे यह अद्भुत इशारा लगा भगवान का। मैंने उन्हें पंजीरी और गुड़ दिया। इसके बाद रात में आदिवासियों के टोले में पहुंच गई। यहां पर उल्लास और आनंद का माहौल था। उन्होंने बताया कि गाय का नाम चांदनी है और बछड़ी का नाम रख दीजिए। मैंने उसका नाम तारा रख दिया। मैंने वहीं तय किया कि जैसे तिरंगा और गंगा के लिए जैसे काम किया वैसे अब गाय के लिए काम करूंगी। शायद यही भगवान कार्तिक की इच्छा है।

किसान की बेटी हूं, किसानों का दर्द जानती हूं: उमा भारती ने कहा

प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने कहा कि कहा कि हमारा देश कृषि प्रधान है। इस देश में किसान जितनी एकजुटता से रहेगा उसे उतना ही लाभ होगा। पिछले सालों में किसान कर्जदार हुआ है, आत्महत्या के मामले बढ़े हैं, किंतु यदि किसान को समय खाद, पानी और बिजली मिल जाए तो वह कर्जदार से कर्जदाता बन जाएगा।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं तो सच में किसान की बेटी हूं, इसलिए उनका दर्द समझती हूं। किसान की समस्याओं के बिंदु तय कर इस पर विचार करने की जिम्मेदारी सरकार की है। देश में चल रहे किसान आंदोलन पर उन्होंने कहा कि किसान शांति के साथ सरकार से संवाद करें तो बात बन सकती है।

लव जिहाद से जुड़े एक सवाल पर उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि राज्य सरकारें इस मसले पर बेहतर निर्णय ले रहीं है। इससे पहले उमा भारती हेलीकॉप्टर से कटनी पहुंचीं। झिंझरी स्थित पुलिस लाइन हैलीपैड से वे प्रदेश के पूर्व मंत्री व विजयराघवगढ़ के विधायक संजय पाठक के साथ सीधे स्कूल पहुंचीं। यहीं पर पत्रकारों से वार्ता की।

30 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here