Loading...    
   


DAVV NEWS- 700 सीटें खाली, भरने के लिए काउंसलिंग का तीसरा राउंड - MP NEWS

इंदौर
। मध्य प्रदेश के सबसे प्रतिष्ठित देवी अहिल्या विश्वविद्यालय में काउंसलिंग के दो चरण पूरे होने के बावजूद सीटें फुल नहीं हुई है। कई लोकप्रिय कोर्स में सीटें खाली हैं। यूनिवर्सिटी में कुल 700 सीट खाली रह गई है। मैनेजमेंट ने इन्हें भरने के लिए काउंसलिंग का तीसरा राउंड अनाउंस कर दिया है। शनिवार को काउंसलिंग का शेड्यूल जारी कर दिया गया।

DAVV- देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के कौन-कौन से कोर्स में सीट खाली है

आइएमएस, आइआइपीएस, ईएमआरसी, लॉ, पत्रकारिता समेत अन्य 12 प्रमुख विभाग से 37 कोर्स संचालित होते हैं, जिसमें प्रवेश के लिए CAP की 60 दिनों से काउंसिलिंग चल रही है। बावजूद इसके 2295 सीटें भर नहीं पाई हैं। ऑनलाइन काउंसिलिंग के दो चरण हो चुके हैं, जिसमें 1580 सीटों पर विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया है। एमबीए मार्केटिंग मैनेजमेंट, फाइनेंस एडमिनिस्ट्रेशन, एचआर, ऑपरेशनल मैनेजमेंट, मीडिया मैनेजमेंट, आइबी, एमसीए, एमटेक सहित कुछ कोर्स में 15 फीसद सीटें खाली है। जबकि शेष कोर्स में 30 से 35 फीसद सीटों पर दाखिला होना है। 

DAVV GROUP A,B,C की काउंसलिंग कहां होगी

लगभग 700 सीटों के लिए काउंसिलिंग का तीसरा चरण रखा है। विभागाध्यक्षों की सहमति से ऑफलाइन काउंसिलिंग को दीपावली बाद रखा है। 19 से 21 नवंबर के बीच विद्यार्थियों को खाली सीटों के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा। मीडिया प्रभारी डॉ. चंदन गुप्ता का कहना है कि ग्रुप ए की ऑडिटोरियम और ग्रुप बी-सी ग्रुप की ईएमआरसी में काउंसिलिंग होगी। यहां विद्यार्थियों को अपने-अपने दस्तावेज लेकर उपस्थिति होना है। सुबह 9 से शाम 5 बजे तक प्रवेश की प्रक्रिया चलेगी। 

DAVV ADMISSION- NRI कोटी की काउंसलिंग का सेकंड राउंड

विश्वविद्यालय में एनआरआइ कोटे के लिए काउंसिलिंग का एक और चरण रखा है। पहली मर्तबा है जब विवि ने एनआरआइ की सीटों के लिए दूसरी बार विद्यार्थियों को बुलाया है। पिछले साल तक काउंसिलिंग शुरू होने से पहले एनआरआइ कोटे में दाखिला लेने वाले विद्यार्थियों को बुलकर सीट आवंटित कर देते थे। बाद में कोटे की खाली सीटों को जनरल कैटेगरी में शामिल कर देते थे। मगर इस बार यह व्यवस्था नहीं की है। 18 नवंबर को कोटे में दाखिले को लेकर विद्यार्थियों को ईएमआरसी में सुबह 11 बजे बुलाया है।

15 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here