Loading...    
   


कर्मचारियों को दीपावली के बाद भी नहीं मिले त्यौहार अग्रिम के 10 हजार रुपए - MP EMPLOYEE NEWS

भोपाल
। कोरोना के कारण बिगड़े हालात को पटरी पर लाने के जतन किये जा रहे हैं। इसी क्रम में मप्र में दीपावली पूर्व वेतनमान एरियर की किश्त का 25 फीसदी व चालीस हजार तक वेतन वाले कर्मचारियों को 10000 रूपये त्यौहार अग्रिम भुगतान का स्वागत योग्य फैसला सीएम शिवराज सिंह चौहान ने लिया था। इसके पीछे तर्क था कि छोटे कर्मचारियों एवं व्यापारियों की दीपावली शुभ हो सके व खजाने में भी राजस्व की बढ़ोतरी हो सके। 

मप्र तृतीय वर्ग शास कर्म संघ के प्रांतीय उपाध्यक्ष कन्हैयालाल लक्षकार ने बताया कि श्री अखिलेश कुमार वर्मा उप सचिव मप्र शासन वित्त विभाग भोपाल के आदेश दिनांक 04/11/2020 द्वारा सातवें वेतनमान के एरियर की अंतिम किश्त का 25% एवं चालीस हजार तक मासिक वेतन वाले कर्मचारियों को दस हजार रूपये त्यौहार अग्रिम देने के आदेश जारी किये थे। त्यौहार अग्रिम हेतु आदेश की कंडिका 2(vii) में उल्लेख किया है कि आवेदक द्वारा "अंकित त्यौहार" ही अग्रिम के लिए मान्य होंगे। कर्मचारियों ने इसके पालन में दीपावली त्यौहार का चयन किया था। विडम्बना देखिये माननीय शिवराजसिंह जी चौहान मुख्यमंत्री महोदय की भावना का मखौल उड़ाते हुए प्रदेश में कई पात्र कर्मचारियों को दीपावली पूर्व उक्त भुगतान नहीं किया गया। 

यह कोई पहला अवसर नहीं है, इससे पहले भी शिक्षक कर्मचारियों को तीन वर्ष पूर्व "पदनाम" देने संबंधी एकाधिक बार मुख्यमंत्री जी की मंचीय सार्वजनिक घोषणा का मखौल उड़ाते हुए अभी तक इसे पूर्ण नहीं किया है। प्रदेश के अधिकारियों का दुस्साहस है कि मप्र में सीएम साहब की घोषणा, महामहिम राज्यपाल के आदेशानुसार शासन के आदेश में तकनीकी बारीकियों का सहारा लेकर प्रशासनिक अधिकारी हवा हवाई कर देते है। लगता है शासन पर बेखौफ़ निरंकुश प्रशासन हावी है। अन्यथा ऐसी अप्रिय स्थिति निर्मित नहीं होती। दीपावली पूर्व भुगतान अटकने से तौहार अपेक्षाकृत फीका व कर्मचारियों में मायुसी रही। 

21 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here