Loading...    
   


JEE(Advanced) 2020 की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स के लिए खास खबर / INDORE NEWS

इंदौर। IIT- इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी और NIT- नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में एडमिशन की प्रोसेस में कुछ चेंजेज होने वाले हैं। संभावना जताई गई है कि इस बार एडमिशन के लिए 12th क्लास में 75% अंको की अनिवार्यता समाप्त की जा सकती है। 

पत्रकार श्री राजेंद्र विश्वकर्मा की एक रिपोर्ट के अनुसार इस पर विचार करने के लिए IIT DELHI द्वारा 17 जुलाई को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बैठक होगी। इसमें IIT INDORE के कार्यवाहक निदेशक भी शामिल रहेंगे। IIT और NIT में हर वर्ष JEE ADVANCE EXAM के अंक और 12वीं के अंक के आधार पर प्रवेश दिया जाता है। कोरोना के कारण इस बार प्रवेश प्रक्रिया में मात्र 12वीं पास विद्यार्थी को प्रवेश मिल सकता है, जबकि पहले 12वीं में 75% अंक होने पर ही प्रवेश मिलता था।

कुछ विद्यार्थियों के कारण सभी को नाराज नहीं कर सकते

इस बारे में IIT INDORE के कार्यवाहक निदेशक प्रो. दिनेश कुमार जैन का कहना है। 12वीं के अंकों के मापदंड को खत्म किया जाए या जारी रखा जाए इस संबंध में जून में बैठक होनी थी, लेकिन इसे आगे बढ़ा दिया गया था। इस बैठक में देश के सभी NIT और IIT संस्थानों के निदेशक ऑनलाइन मौजूद रहेंगे। 12वीं के अंकों के मुद्दे पर सभी अपनी राय देंगे। इस संबंध में मेरा मानना है कि 12वीं में 75% अंक के मापदंड को प्रवेश प्रक्रिया में शामिल रखा जाना चाहिए। चूंकि कई राज्यों में 12वीं की परीक्षा हो चुकी थी। ऐसे में कुछ फीसद विद्यार्थियों को राहत पहुंचाने के लिए आइआइटी संस्थानों में प्रवेश के लिए प्रतियोगिता की भावना को कम नहीं करना चाहिए। प्रो. निलेश कहते हैं मापदंड को खत्म करने से एक नई समस्या खड़ी हो जाएगी। जो विद्यार्थी पिछले वर्ष 12वीं की परीक्षा दे चुके हैं और बेहतर अंक ला चुके हैं वे भी इस पर सवाल उठा सकते हैं। मामला कोर्ट में जा सकता है।

JEE की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स को राहत मिलेगी

12वीं के अंक के मापदंड को उच्च तकनीकी संस्थानों से हटाने पर विचार होने पर शिक्षाविदों की अलग अलग प्रतिक्रिया आ रही है। इस बारे में शहर के वरिष्ठ शिक्षाविद डॉ. अविनाश पांडे कहते हैं इस बार हर राज्य ने अपने मापदंडों के अनुसार 12वीं के परिणाम तैयार किए हैं। तय पैमानों के अनुसार परिणाम तैयार नहीं होने से उच्च तकनीकी संस्थानों में इस साल 12वीं में 75 फीसद अंक की अनिवार्यता को खत्म करने पर विचार शुरू हआ है। इस फैसले से विद्यार्थियों को राहत मिलेगी। इससे 12वीं में भले ही कितने भी अंक मिले, लेकिन विद्यार्थी अगर जेइइ एडवांस में अच्छे पर्सेंटाइल लाता है तो उसे प्रवेश मिलेगा। वैसे भी एडवांस परीक्षा को काफी कठिन माना जाता है। अच्छी तैयारी करने वाले ही इसमें सफल हो पाते हैं। ऐसे में इस साल की स्थिति को देखते हुए 12 वीं के अक को प्रवेश प्रक्रिया के नियमों से हटाना ही बेहतर रहेगा।

15 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

चिंता ना करें मध्य प्रदेश लॉकडाउन नहीं होगा: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
सिंधिया-सचिन को लेकर दिग्विजय सिंह ने कहा: नौजवानों में सब्र नहीं है
CBSE 10th RESULT 2020 यहां देखें, सबसे फास्ट के लिए MOBILE APP DOWNLOAD करें
सचिन पायलट नई पार्टी बनाएंगे: गहलोत सरकार पर संकट बरकरार
ग्वालियर किले से कूदकर महिमा ने आत्महत्या कर ली
COLLEGE EXAM के बारे में UGC का नया बयान, राज्य सरकारें जनरल प्रमोशन की घोषणा कर सकती हैं या नहीं
छींक आने पर मनुष्य की आँखें बंद क्यों हो जातीं हैं
MPPEB ने सभी परीक्षाओं को रीशेड्यूल करने प्रस्ताव भेजा
राजा-महाराजा मुकुट क्यों पहनते थे, कोई विज्ञान है या सिर्फ शान के लिए, पढ़िए
HOTEL GULZAR JABALPUR के मालिक SANJAY BHATIA के खिलाफ मामला दर्ज
MP BOARD 12th: चूक गए छात्रों के लिए विशेष परीक्षा कार्यक्रम
जबलपुर अपर आयुक्त की बेटी के विवाह में 21 कोरोना पॉजिटिव, 100 से ज्यादा संदिग्ध
भोपाल में हाई प्रोफाइल पार्टियों में लड़कियां सप्लाई करने वाले प्यारेमियां के फ्लैट्स तोड़े
मध्य प्रदेश कोरोना: OMG! 1 दिन में 798 पॉजिटिव, औसत 2% से सीधे 6% पर
झूठी शपथ या प्रतिज्ञा लेना किस धारा के अंतर्गत एक दण्डनीय अपराध है जानिए
भोपाल में हाई प्रोफाइल अय्याशों के खिलाफ ऑपरेशन के लिए SIT गठित
लोहे में जंग क्यों लगती है, पानी में ऐसा क्या होता है जो लोहा गल जाता है
भोपाल में माँ ने BF से चैटिंग करने मना किया तो इंपीरियल हारमनी की छठवीं मंजिल से कूदी छात्रा, मौत


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here