Loading...    
   


TULSI MILK बनाने का तरीका, IMMUNITY BOOST करता है, महामारी से बचाएगा

इन दिनों देश के वह नागरिक जो आयुर्वेदिक दवाइयों की गंध से चढ़ते थे, हर सप्ताह आयुर्वेदिक काढ़ा पी रहे हैं। इम्यूनिटी बूस्टर की तलाश सारे देश में शिद्दत से की जा रही है। तो आइए हम बताते हैं आपको सबसे कारगर, सबसे असरदार, सबसे अच्छा और सबसे सस्ता इम्यूनिटी बूस्टर। इसका नाम है तुलसी मिल्क। यहां आपको तुलसी मिल्क बनाने और उसका सेवन करने के सही तरीके के बारे में बताया जा रहा है। जैसा कि वैद्य विशारद आचार्य राधेश्याम ने बताया।

HOW TO MAKE TULSI MILK / TULSI MILK RECIPE

तुलसी मिल्क बनाने के लिए आपको सबसे पहले डेढ़ गिलास दूध को मध्यम आंच पर उबालना है। दूध के उबलने पर इसमें 8 से 10 तुलसी की पत्तियां डालकर उसे और उबालें। जब दूध लगभग एक गिलास रह जाए तब गैस बंद कर दें। दूध के हल्का गुनगुना होने पर इसका सेवन करें। याद रखें इस दूध का नियमित सेवन करने से ही आपकी इम्यूनिटी स्ट्रांग बनेगी और आप कई रोगों से दूर रहेंगे।  

माइग्रेन मैं आराम के लिए घरेलू तुलसी मिल्क

दूध में तुलसी के पत्ते उबालकर पीने से सिर दर्द या माइग्रेन जैसी दिक्कतें जड़ से ठीक हो जाती हैं। अगर आप लंबे समय से इस समस्या से परेशान हैं हैं तो आप चाय की जगह रोजाना दूध में तुलसी के पत्ते डालकर पीएं। 

तनाव और डिप्रेशन दूर करने के लिए घरेलू उपाय

तुलसी के पत्तों में न सिर्फ औषधीय गुण मौजूद होते हैं बल्कि इन पत्तियों में हीलिंग गुण भी शामिल होते हैं। यदि आप भी ऑफिस की टेंशन या परिवार की कलह की वजह से डिप्रेशन जैसी समस्या से घिरे रहते हैं तो दूध में तुलसी की पत्तियों को उबालकर पीएं। ऐसा करने से डिप्रेशन की समस्या से उबरने में मदद मिलती है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा घरेलू उपाय

आज कोरोना महामारी के दौर में हर व्यक्ति अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की तरफ ध्यान दे रहा है। कोई भी रोग आपको तभी घेर सकता है जब आपकी इम्यूनिटी कमजोर होती है। ऐसे में तुलसी के पत्तों में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स गुण शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करते हैं। इसके अलावा तुलसी में मौजूद एंटीबैक्टीरियल एवं एंटीवायरल गुण सर्दी, खांसी और जुकाम से भी दूर रखते हैं।

TULSI MILK के एक्स्ट्रा फायदे: हार्ट अटैक नहीं आता

दूध में तुलसी के पत्तों को उबालकर पीने से हमारा हृदय भी स्वस्थ रहता है। रोजाना खाली पेट तुलसी मिल्क पीने से  ह्रदय रोगियों को काफी फायदा मिलता है। 

TULSI MILK के फायदे: दमा रोगियों को आराम देता है

अगर आप सांस संबंधी समस्याओं से परेशान हैं तो तुलसी मिल्क पीएं। बदलते मौसम से होनी वाली परेशानियों से यह घरेलू नुस्खा बेहद कारगर है।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here