Loading...    
   


इंदौर में आंधी, भोपाल में ठंड, खंडवा सड़कें डूबी , खरगोन नदी में बाढ़, बड़वानी में जलभराव / MP WEATHER REPORT


भोपाल। पिछले 36 घंटे में मध्य प्रदेश का मौसम पूरी तरह बदल गया है। अरब सागर से उठे तूफान के हल्के से प्रभाव का पूर्वानुमान था लेकिन पश्चिम से काले घने बादलों का पूरा कुनबा चला आया। बुधवार सुबह से लेकर गुरुवार शाम तक आधा मध्य प्रदेश बारिश से तर हो चुका था। इंदौर में 50 किलोमीटर की स्पीड से आंधी के साथ बारिश हुई। भोपाल में लगातार बारिश के कारण तापमान 20 डिग्री से नीचे चला गया। खंडवा में नाले और सड़कें पानी में डूब गए। खरगोन की एक नदी में बाढ़ आ गई। बड़वानी में जल भरा हुआ। नर्मदा नदी के किनारे वाले खेत पानी में डूब गए।

इंदौर में आंधी के साथ बारिश,  वज्रपात का खतरा

मौसम विभाग के मुताबिक, गुरुवार को दिनभर में 10 सेमी (लगभग 4 इंच) पानी बरस सकता है। बिजली गिरने का खतरा भी बहुत ज्यादा रहेगा। हवा भी 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी। हालांकि सुबह से हल्की हवाएं चल रही हैं, जिससे मौसम में ठंडक घुल गई है। हालांकि बारिश के कारण कई इलाकों में बिजली गुल है। हालात को देखते हुए निगम के सभी अधिकारी कंट्रोल रूम पर मौजूद हैं। निगमायुक्त भी हालात का जायजा ले रही हैं। अब तक शहर में 5 पेड़ गिर चुके हैं। इंदाैर के साथ ही उज्जैन, खरगोन, खंडवा, बड़वानी समेत मालवा निमाड़ के करीब-करीब सभी जिलाें में तूफान का असर दिखाई दे रहा है।

खंडवा में नाले उफान पर, कई इलाकों में पानी भरा, सड़कें डूब गईं

निसर्ग तूफान के कारण खंडवा में रातभर से तेज बारिश का दाैर जारी है। शहर में बुधवारा, कहारवाड़ी, रेलवे स्टेशन, सिनेमा चौका समेत कई निचले इलाके पानी-पानी हो गए हैं। कई नाले उफान पर आ गए हैं। मौसम विभाग ने भारी बारिश और हवा आंधी चलने की चेतावनी दी है। प्रशासन ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है। कहा- लोग पर्यटन स्थलों पर भी न जाएं। इन क्षेत्रों में गुरुवार काे 50 किमी की रफ्तार से हवा और आंधी चल सकती है। मौसम विभाग और जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है कि गुरुवार को ओंकारेश्वर, हनुवंतिया, असीरगढ़ समेत किसी भी पर्यटन स्थल पर न जाएं। यहां 40-50 किमी की रफ्तार से तेज हवा चलने के साथ बिजली गिरने की संभावना है। डिप्टी कलेक्टर हेमलता सोलंकी ने बताया कि भू-अभिलेख कार्यालय में नियंत्रण कक्ष बनाया गया है।

बड़वानी जलमग्न, नर्मदा किनारे के खेतों में बाढ़ 

बड़वानी में भी निसर्ग का खासा असर देखने को मिला है। यहां 97 मिमी बारिश हो चुकी है। सेंधवा में सबसे ज्यादा 104, निवाली में 102 और बरला में 91 मिली बारिश रिकाॅर्ड की गई। रातभर बारिश से अंजड भी पानी-पानी हो गया है। नर्मदा पट्‌टी से लगे खेतों में पानी भरने से फसलों को नुकसान हुआ है। यहां पाल टूटने से करीब 6 एकड़ में कपास की फसल को काफी नुकसान हुआ है। लगातार बारिश होने से मंडी में रखी उपज भीग गई है। 

इंदौर में इमरजेंसी मीटिंग

कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को तूफान का संभावित असर इंदौर में दिख सकता है। तेज हवा और बारिश की आशंका के मद्देनजर सांसद शंकर लालवानी और कलेक्टर ने सभी नागरिकों से घरों में ही रहने की अपील की है। बिजली विभाग काे भी अलर्ट रहने के लिए कहा है। कलेक्टरेट में तूफान की तैयारियों को लेकर बुधवार को सांसद और कलेक्टर ने बैठक भी ली। आपदा की स्थिति पैदा होने की दशा में नगर निगम में कंट्रोल रूम बनाया गया है। संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने सभी आठों जिले के कलेक्टर को पत्र जारी किए हैं। इसमें ज्यादा से ज्यादा गेहूं को वेयर हाउस में रखवाने के लिए कहा।

यह तूफान नहीं प्री-मानसून बारिश है, बादल ग्वालियर चंबल संभाग की तरफ गए

तूफान के असर से ग्वालियर चंबल संभाग में देर रात से बारिश का सिलसिला शुरू हो गया है। इसके आज दिन में और ज्यादा जोर पकड़ने के आसार हैं। मौसम विभाग के अनुसार खंडवा के रास्ते बुधवार रात से पश्चिमी मप्र में सिस्टम सक्रिय हो गया है। इससे सीजन की पहली तेज प्री-मानसून बारिश हो गई है। गुरुवार को 40-50 मिमी बारिश होने की संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ के असर से पश्चिमी राजस्थान के ऊपर चक्रवाती घेरा बना हुआ है। अरब सागर से आने वाले सिस्टम से यदि चक्रवाती घेरे का मिलाप होता है तो शुक्रवार को भी बारिश होगी।

इन जिलों में भारी बारिश का अनुमान

मौसम विभाग की चेतावनी के अनुसार, रायसेन, सीहोर, होशंगाबाद, बैतूल, हरदा, बुरहानपुर, खंडवा, खरगौन, बड़वानी, अलीराजपुर, झाबुआ, धार, देवास, छिंदवाड़ा, सागर, छतरपुर, टीकमगढ़ और शाजापुर जिलों में भारी बारिश की चेतावनी है। इसके साथ भोपाल, इंदौर, जबलपुर, सागर, उज्जैन, ग्वालियर, रीवा, शहडोल और चंबल संभागों में तेज हवा के साथ-साथ गरज चमक के साथ बारिश होगी।

04 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

छतरपुर में युवा कर्मचारी ने CMO की पत्नी को गोलियां मारीं, घटना के समय दोनों घर में अकेले थे
दुनिया में जब रेजर नहीं थे, लोग सेविंग कैसे करते थे
CBSE 12th EXAM NOTIFICATION जारी, यहां पढ़िए
SSC EXAM 2020 DATE घोषित, शेड्यूल जारी / SSC EXAM 2020 TIMETABLE
शिवलिंग गोल होते है, फिर आधी परिक्रमा क्यों करते हैं
सिंधिया के सवाल पर तोमर ने कहा: भाजपा किसी को पचाने में सक्षम है
राजेंद्र शुक्ला ने सोनू सूद के बहाने शिवराज सिंह के गाल पर तमाचा मारा
बर्फ ठंडी होती है, फिर उसमें से भाप क्यों निकलती है
मध्य प्रदेश के 16 जिलों में तूफानी बारिश का अलर्ट जारी
PNB सेविंग अकाउंट होल्डर के लिए बुरी खबर
आम रास्ते में रुकावट पैदा करने वाले के खिलाफ किस धारा के तहत FIR दर्ज होती है
भोपाल में देह व्यापार अनलॉक, 5 लड़कियों के साथ सीहोर का किसान गिरफ्तार
जबलपुर में DTH की छतरी ने ली महिला की जान
जब खून लाल है तो नसों का रंग नीला क्यों होता है
धूम्रपान करने वालों के खिलाफ IPC की किस धारा के तहत FIR दर्ज होगी, क्या आप जानते हैं
भोपाल में लॉकडाउन 5.0 मिली छूट का परिणाम: 3 दिन में 145 नए कोरोना पॉजिटिव
दिवालिया बैंक में पैसा डूब जाता है तो क्या लिया गया LOAN भी नहीं चुकाना पड़ता
भारत के TOP-10 मुख्यमंत्रियों की लिस्ट में शिवराज सिंह चौहान का नाम नहीं है
मध्य प्रदेश के कॉलेज स्टूडेंट्स अपनी लोकेशन भेजें: उच्च शिक्षा विभाग


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here