Loading...    
   


पीएम नरेंद्र मोदी के आह्वान से फ्रस्टेड हुए जेडी महिला बाल विकास सस्पेंड | MP NEWS

भोपाल। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 5 अप्रैल की रात 9:00 बजे 9 मिनट के लिए इलेक्ट्रिक लाइट बंद करके दीपक, मोमबत्ती या फिर मोबाइल टॉर्च जलाने की अपील के बाद महिला एवं बाल विकास विभाग मध्यप्रदेश के ज्वाइंट डायरेक्टर सुरेश सिंह तोमर फ्रस्टेड हो गए। फ्रस्ट्रेशन में आकर उन्होंने सोशल मीडिया पर बैक-टू-बैक 3 नेगेटिव मैसेज पोस्ट कर दिए। नतीजा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन्हें सस्पेंड कर दिया।

सुरेश सिंह तोमर ने सोशल मीडिया पर बैक-टू-बैक 3 मैसेज पोस्ट किए

महिला एवं बाल विकास विभाग के ज्वाॅइंट डायरेक्टर पद पर पदस्थ सुरेश तोमर ने शुक्रवार को अपने फेसबुक अकाउंट पर लिखा- सर जी, आप तो एक बार में ही शेड्यूल बता दो। कब क्या बुझाना है, हम करते रहेंगे बराबर (क्योंकि अक्ल तो हममें है नहीं)। दूसरी पोस्ट- भाड़ में जाए ये कोरोना क्राइसिस मैनेजमेंट...मेरे लिए तो ये लिटमस टेस्ट है। तीसरी पोस्ट- सर, आप तो कोरोना के मजे ले रहे हो। 

भाजपा के जिला महामंत्री कमल माखीजानी और मंत्री दीपक शर्मा ने संभागीय आयुक्त एमबी ओझा से फोन पर बात कर शिकायत दर्ज कराई कि शासकीय अधिकारी इस प्रकार प्रधानमंत्री के आह्वान का मजाक बना रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारियों की शिकायत के बाद मध्यप्रदेश शासन की ओर से बताया गया कि राज्य शासन ने संयुक्त संचालक महिला बाल-विकास, ग्वालियर संभाग श्री सुरेश सिंह तोमर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। मध्यप्रदेश सिविल सेवा (आचरण) नियम-1965 के उल्लंघन के परिप्रेक्ष्य में निलंबित श्री तोमर का निलंबन अवधि में मुख्यालय कार्यालय संभागीय आयुक्त ग्वालियर संभाग ग्वालियर होगा।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here