Loading...    
   


आज लौट आएंगे कोटा में फंसे मप्र के स्टूडेंट्स / GWALIOR NEWS

ग्वालियर। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिये सम्पूर्ण देश में लागू किए गए लॉकडाउन के कारण राजस्थान के कोटा शहर के विभिन्न शिक्षण संस्थानों में पढऩे गए मध्यप्रदेश के बच्चों को उनके घर वापस लाने के लिये शहर से डेढ़ सौ बसें मंगलवार सुबह एसएएफ मैदान से रवाना की गईं। यह बच्चे लॉकडाउन के बाद से ही कोटा में फंसे हुए थे, जिन्हें लेकर प्रशासन व उनके परिजन लगातार चिंतित थे। इसके बाद इन्हें वापस लाने का प्लान तैयार किया गया।

बच्चों को कोटा से ग्वालियर तक सुरक्षित लाने की जिम्मेदारी नगर निगम के अपर आयुक्त दिनेश शुक्ला को सौंपी गई। इनके साथ तीन सदस्यीय दल भी भेजा गया, साथ ही इन्हें यह भी समझाइश दी गई है कि कोटा जाने और आने के बीच कहीं भी बसों का स्टे नहीं किया जाए। बेहद जरूरी होने पर ही बस रोकी जाएं और इस दौरान पूरी सावधानी बरती जाए। बच्चों को लेने के लिए कोटा रवाना की गई बसें दोपहर बाद कोटा पहुंच जाएंगी। इसके बाद निर्धारित स्थान से बच्चों को लेने के बाद बिना रुके ही वापस भी आ जाएंगी। 

मध्यप्रदेश के बच्चों को कोटा से लाने एवं उन्हें घर तक पहुंचाने की व्यवस्था के लिये जिला प्रशासन द्वारा एक कंट्रोल रूम भी बनाया गया है, इसके माध्यम से समन्वय का काम किया जायेगा। कोटा प्रशासन द्वारा मध्यप्रदेश के बच्चों को चिन्हित कर भेजी जा रही बसों में बिठाकर उनके घर पहुंचाने की जिम्मेदारी होगी। कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए बच्चों को लाते समय संक्रमण से बचने के लिए सभी सावधनियों को ध्यान में रखकर व्यवस्थायें सुनिश्चित की गई हैं।

22 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

मच्छर शाम के समय सिर के ऊपर क्यों भिनभिनाते हैं 
चरणामृत क्यों पीते हैं, कोई साइंस है या ब्राह्मणों की दूसरों को नीचा दिखाने वाली परंपरा
कमलनाथ के प्रिय IAS सभाजीत यादव रिटायरमेंट के 10 दिन पहले सस्पेंड 
मानवता को सलाम: बेटे ने मना किया तो तहसीलदार ने कोरोना संक्रमित का अंतिम संस्कार किया
मध्य प्रदेश में 5 मंत्रियों ने शपथ ली, 3 भाजपा विधायक, 2 सिंधिया समर्थक
मप्र कैबिनेट मीटिंग का आधिकारिक प्रतिवेदन 
मध्य प्रदेश 67 नए पॉजिटिव, टोटल 1552, 80 मृत्यु, 148 डिस्चार्ज, 29 गंभीर 
शिवराज सिंह का मंत्रिमंडल संविधान के अनुसार नहीं है 
मानवता को सलाम: बेटे ने मना किया तो तहसीलदार ने कोरोना संक्रमित का अंतिम संस्कार किया 
मध्यप्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव नहीं होंगे, प्रशासनिक समितियां गठित होंगी: सीएम ने कहा (वीडियो देखें) 
दो इलेक्ट्रिक पोल के बीच तार ढीला क्यों होता है, सीधा क्यों नहीं होता, आइए जानते हैं 
बड़वानी एक्साइज ऑफिसर की बेटी ने इंदौर में सुसाइड किया 
ग्वालियर में सरेआम महिला ने कपड़े उतारे, पुलिस और डॉक्टर के सामने हंगामा 
कूलर में यदि पानी की जगह बर्फ रख दें तो क्या वह ज्यादा ठंडी हवा देगा 
NHM में डाटा मैनेजर और IDSP भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित 
मध्यप्रदेश में एक और टीआई कोरोना वायरस से जनता को बचाते हुए शहीद 
मध्य प्रदेश माइक्रो मंत्रिमंडल: मंत्रियों को विभाग नहीं संभाग सौंपे 
कर्मचारियों की NPS बंद करके OPS शुरू कर दें, कोरोना के लिए बजट आ जाएगा 
24 डिब्बे की एक्सप्रेस ट्रेन की कीमत कितनी होती है 
राजगढ़: कलेक्टर से नाराज डॉक्टर एस्मा के बावजूद हड़ताल पर, पब्लिक भड़की


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here