ज्योतिरादित्य सिंधिया का भाजपा ज्वाइन करना फाइनल, राज्यसभा के साथ कैबिनेट मंत्री बनाए जाएंगे | MP NEWS
       
        Loading...    
   

ज्योतिरादित्य सिंधिया का भाजपा ज्वाइन करना फाइनल, राज्यसभा के साथ कैबिनेट मंत्री बनाए जाएंगे | MP NEWS

Jyotiraditya Sindhiya BJP join

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश में कांग्रेस के तीसरे सबसे शक्तिशाली नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का भारतीय जनता पार्टी जॉइन कर रहा लगभग तय हो गया है। केंद्रीय नेतृत्व सहमत है कि उन्हें राज्यसभा सांसद बनाया जाएगा। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कैबिनेट मंत्री का पद भी मांगा है। भाजपा केंद्रीय नेतृत्व ने ज्योतिरादित्य सिंधिया की मांग से इनकार नहीं किया है। खबर की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है परंतु सूत्रों ने दावा किया है।

ज्योतिरादित्य सिंधिया के सभी समर्थक मंत्री और विधायक बेंगलुरु में 

ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक सभी मंत्री और विधायक बेंगलुरु पहुंच गए। बताया गया है कि छह मंत्रियों सहित कुल 17 विधायक बेंगलुरु में है। अब कई विकल्प हैं जिन पर काम किया जा सकता है। 16 मार्च से शुरू होने वाले मध्य प्रदेश विधानसभा सत्र के पहले दिन ही बीजेपी कमलनाथ सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाकर कमलनाथ सरकार को गिराया जा सकता है। इसके पहले राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग कराई जा सकती है और यदि 17 विधायक एक साथ इस्तीफा दे देते हैं तो सरकार तुरंत संकट में आ जाएगी।

मध्य प्रदेश का अंकगणित समझिए

मध्यप्रदेश विधानसभा में 230 सीटें हैं, जिनमें से फिलहाल दो खाली हैं। इस तरह मौजूदा समय में राज्य में कुल 228 विधायक हैं, जिनमें से 114 कांग्रेस, 107 बीजेपी, चार निर्दलीय, दो बहुजन समाज पार्टी और एक समाजवादी पार्टी के विधायक शामिल हैं। कांग्रेस सरकार को इन चारों निर्दलीय विधायकों के साथ-साथ बीसपी और समाजवादी पार्टी का समर्थन है। कांग्रेस के 114 में से ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास 24 विधायक हैं और फिलहाल 17 बेंगलुरु में है।