मध्य प्रदेश: छुट्टी पर गए राज्यपाल बीच में ही वापस लौटे, होली का दिन सरकार के लिए बेहद अहम | MP NEWS
       
        Loading...    
   

मध्य प्रदेश: छुट्टी पर गए राज्यपाल बीच में ही वापस लौटे, होली का दिन सरकार के लिए बेहद अहम | MP NEWS

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच शुरू हुई नई जंग के बाद राज्यपाल श्री लालजी टंडन वापस भोपाल आ रहे हैं। राज्यपाल महोदय होली के त्यौहार के अवसर पर 5 दिन की छुट्टी पर गए थे। इससे पहले अमित शाह के घर पर भाजपा नेताओं की एक मीटिंग हुई। इसमें नरेंद्र सिंह तोमर एवं शिवराज सिंह चौहान मुख्यरूप से उपस्थित थे। 

होली का दिन सरकार के लिए बेहद अहम

होली का दिन कमलनाथ सरकार के लिए बेहद अहम है। राज्यपाल का छुट्टी कैंसिल करके वापस आना इस संदेह को पुख्ता करता है कि कोई बड़ा सियासी ड्रामा शुरू हो सकता है जिसकी घोषणा मंगलवार को हो जाएगी। राज्यपाल मंगलवार को भोपाल पहुंचेंगे और इसके बाद शाम 7 बजे भाजपा विधायक दल की बैठक होगी। 

इन मंत्रियों-विधायकों के फोन बंद

मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, महेंद्र सिंह सिसोदिया, तुलसी सिलावट, इमरती देवी, गोविंद सिंह राजपूत और प्रभुराम चौधरी बेंगलुरु गए हैं। भास्कर ने जब सभी को फोन लगाया तो इनके फोन बंद मिले। राजवर्धन सिंह, ओपीएस भदौरिया, जसवंत जाटव, बिजेंद्र यादव, जसपाल जज्जी, रणवीर जाटव, कमलेश जाटव, रक्षा सिरोनिया, मुन्ना लाल गोयल, रघुराज कंषाना और सुरेश धाकड़ से भी संपर्क नहीं हो पा रहा है। बेंगलुरु के बाहरी इलाके में स्थित एक रिसॉर्ट में विधायकों को ठहराया गया है। यहां 400 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। सूत्रों के मुताबिक, कुछ विधायक दिल्ली में हैं।

कमलनाथ ने सिंधिया पर नहीं दिया कोई जवाब

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सोमवार को दिल्ली में सोनिया गांधी से मुलाकात की। मुलाकात के बाद कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष से कई मसलों पर चर्चा हुई है। उनका मार्गदर्शन मिला है, उसका पालन करूंगा। ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा भेजे जाने के सवाल पर कमलनाथ ने कोई जवाब नहीं दिया।