कांग्रेस के एक दर्जन से ज्यादा नेताओं को कैबिनेट मंत्री और राज्य मंत्री का दर्जा | MP NEWS
       
        Loading...    
   

कांग्रेस के एक दर्जन से ज्यादा नेताओं को कैबिनेट मंत्री और राज्य मंत्री का दर्जा | MP NEWS

भोपाल। जैसे कि भोपाल समाचार द्वारा संभावनाएं जताई जा रही है मध्य प्रदेश की पॉलीटिकल क्राइसिस के बीच अपनी सरकार को बचाने की कोशिशों के अलावा मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ मध्यावधि चुनाव की तैयारियों में जुटे हुए हैं। आज उन्होंने कांग्रेस के करीब एक दर्जन से ज्यादा नेताओं को कैबिनेट मंत्री और राज्यमंत्री का दर्जा प्रदान कर दिया। बताना जरूरी होगा कि पिछले 15 महीनों में सीएम कमलनाथ ने इन तमाम पदों के लिए कोई नियुक्ति नहीं की थी। शायद उन्होंने ऐसे ही किसी मौके के लिए नियुक्तियों को रोक रखा था। 

किन कॉन्ग्रेस नेताओं को मिला कैबिनेट मंत्री का दर्जा

राज्य महिला आयोग अध्यक्ष शोभा ओझा
राज्य अजजा आयोग अध्यक्ष गजेंद्र सिंह राजूखेड़ी
राज्य अजा आयोग अध्यक्ष आनंद अहिरवार
राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग अध्यक्ष जेपी धनोपिया
मध्य प्रदेश युवा आयोग अभय तिवारी

मध्यप्रदेश में इन कांग्रेस नेताओं को दिया गया राज्य मंत्री का दर्जा

राज्य महिला आयोग सदस्य नीना सिंह
राज्य महिला आयोग सदस्य जमुना मरावी
राज्य महिला आयोग सदस्य डॉ.शशि राजपूत
राज्य महिला आयोग सदस्य संगीता शर्मा
राज्य महिला आयोग सदस्य शर्मिला एस मोयदे
राज्य अनुसूचित जाति आयोग सदस्य प्रदीप अहिरवार
राज्य अनुसूचित जाति आयोग सदस्य गुरुचरण खरे
राज्य अनुसूचित जनजाति आयोग सदस्य गुलाब उइके
राज्य अनुसूचित जनजाति आयोग सदस्य श्रीमती हीरामन उईके

इसके पहले कमल नाथ सरकार ने महिला आयोग के अध्यक्ष पद पर शोभा ओझा को बैठा दिया। शोभा ओझा को कमल नाथ के मध्य प्रदेश की राजनीति में कूदते ही कांग्रेस मीडिया विभाग की अध्यक्ष बनाया गया था। इसी के साथ कांग्रेस प्रवक्ता संगीता शर्मा (Sangita Sharma) को महिला आयोग में सदस्य बनाया गया है। पिछड़ा वर्ग आयोग में प्रवक्ता जेपी धनोपिया को अध्यक्ष बनाया गया है। कांग्रेस आईटी सेल के अध्यक्ष अभय तिवारी को युवा आयोग का अध्यक्ष बनाया गया है। मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग के सदस्य के तौर पर आदिवासी युवा नेता रामू टेकाम की नियुक्ति का आदेश सरकार ने दिया था।