Loading...    
   


मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने इस्तीफा दिया | Kamal Nath resign Chief Minister post

Madhya Pradesh political crisis | congress government down

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने इस्तीफा दे दिया है। विधायक दल की बैठक के बाद कमलनाथ ने प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया। उन्होंने पहले से लिखा हुआ बयान पढ़ा। सीएम कमलनाथ ने राज्यपाल से मिलने के लिए 1:00 बजे का समय मांगा है। भाजपा सोचती है कि मेरे प्रदेश को हराकर यह लोग जीत जाएंगे, लेकिन ऐसा नहीं होगा। सबको याद रखना है आज के बाद कल आता है और कल के बाद परसों आएगा। मैंने तय किया है कि मैं राज्यपाल को अपना इस्तीफा देने जा रहा हूं।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने लिखा हुआ बयान पढ़ा: 15 महीनों में मेरा प्रयास रहा कि हम प्रदेश की तस्वीर बदले। मेरा क्या कसूर था। इन 15 महीना मेरी क्या गलती थी। मेरे लगभग 45 साल के राजनीतिक जीवन में मैंने हमेशा विकास में विश्वास रखा। जब तक केंद्र में था, मुख्य सरकार में था, मैं मंत्री था जितनी मदद हो पाई मैंने राज्य के लिए करने की कोशिश की। तारीख और समय गवाह है मुझे जनता ने 5 साल का मौका दिया था प्रदेश को सही रास्ते पर लाने के लिए। मध्य प्रदेश की तुलना छोटे राज्यों से नहीं बड़े राज्यों से हो। भारतीय जनता पार्टी को 15 साल मिले थे। मुझे पूरे 15 महीने नहीं मिले। 

I have decided to tender my resignation to the Governor today.
Kamal Nath (CM Madhya Pradesh)

एक महाराज के साथ मिलकर भारतीय जनता पार्टी ने मेरी सरकार के खिलाफ साजिश रची। मैं चाहता था कि कांग्रेस महल में नहीं बल्कि महल कांग्रेस में आए। करोड़ों रुपए खर्च कर बहुमत का खेल खेला गया, एक महाराज और 22 लोभियों ने ये खेल खेला। में चाहता था कांग्रेस महल से बाहर निकले। प्रदेश की जनता के साथ विश्वासघात हुया। यह विश्वासघात मेरे साथ नहीं किया गया बल्कि या विश्वासघात मध्य प्रदेश की जनता के साथ किया गया। 

मध्य प्रदेश की राजनीति, आज की ताजा खबर | MP political crisis latest news



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here