Loading...    
   


JYOTIRADITYA SCINDIA पर ताबड़तोड़ हमले होंगे

#JyotiradityaMScindia #KamalnathGovernment

भोपाल। कांग्रेस पार्टी की रणनीति सामने आ गई है। मंगलवार को कांग्रेस पार्टी के विधायकों की शिफ्टिंग के अलावा एक बड़ा काम किया जाएगा। दिल्ली से लेकर भोपाल तक और भोपाल से लेकर चौपाल तक ज्योतिरादित्य सिंधिया पर कांग्रेस की तरफ से ताबड़तोड़ हमले किए जाएंगे। इसकी शुरुआत हो चुकी है। दिल्ली में प्रवक्ताओं की फौज को फ्री हैंड दिया गया है। दिग्विजय सिंह भी एक्शन में आ गए हैं। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रति सहानुभूति खत्म करने की रणनीति 

ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद के प्रत्येक सहानुभूति की लहर चल रही थी। हर कोई इस बात से सहमत था कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ पिछले 1 साल से जो कुछ भी हो रहा है वह न केवल हताश करने वाला था बल्कि अपमानजनक भी था। कांग्रेस पार्टी इस सहानुभूति को खत्म करना चाहती है। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया पर किस तरह के हमले करेगी कांग्रेस 

दिल्ली में कांग्रेस प्रवक्ताओं की फौज को फ्री हैंड दे दिया गया है। आज दिनभर टीवी चैनलों पर बार-बार बताया जाएगा कि कांग्रेस पार्टी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया पर कितने एहसान किए हैं। 18 साल में उन्हें 8 महत्वपूर्ण पदों पर प्रमोट किया गया। कांग्रेस के इतिहास में इतने कम टाइम में इतने सारे पद किसी को नहीं दिए गए। यह भी बताया जाएगा कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस के विधायक दल ने कमलनाथ को अपना नेता चुना था, ज्योतिरादित्य सिंधिया को नहीं। इसलिए कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनाया गया। इसके अलावा सन 57 से लेकर आज तक जो कुछ भी सही गलत कहा जा सकता है सब कहा जाएगा। टारगेट सिर्फ एक है ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रति जो सहानुभूति की लहर सोमवार को सोशल मीडिया पर दिखाई दी थी वह नजर नहीं आनी चाहिए। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया की तरफ से बचाव फोन करेगा 

कांग्रेस ने बड़ा सोच समझकर 11 मार्च का दिन चुना है। आज के दिन ज्योतिरादित्य सिंधिया ना तो कांग्रेस के नेता हैं और ना ही भाजपा के। ज्योतिरादित्य सिंधिया की टीम में कोई भी ऐसा नहीं है जो कांग्रेस पार्टी के हमले का जवाब दे सके। भाजपा के पास ऐसे नेताओं की फौज है लेकिन क्योंकि ज्योतिरादित्य सिंधिया भारतीय जनता पार्टी के नेता नहीं है इसलिए भाजपा खुलकर मैदान में नहीं आ पाएगी। अकेले संबित पात्रा है, देखते हैं दिन भर में कौन कितना लोहा लेता है।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here