Loading...    
   


जबलपुर में ओलावृष्टि से फसल पूरी तरह से चौपट | JABALPUR NEWS

जबलपुर। अंचल में एक बार फिर गुरुवार रात मौसम में बदलाव हुआ। रात करीब 12 बजे के बाद बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई जिससे सीधी, रीवा, शहडोल, उमरिया और अनूपपुर जिले में गेहूं, चना, मसूर और सब्जियों को भारी नुकसान हुआ है। उमरिया में ओलों की मार से पक्षियों की भी मौत हुई है। शुक्रवार दोपहर बाद डिंडौरी और सिवनी जिले में बारिश और ओलों ने कहर ढाया।  

शहडोल जिले में ओलावृष्टि से गेहूं की फसल पूरी तरह से चौपट हो गई है। शुक्रवार को भी जिले के बुढ़ार व धनपुरी क्षेत्र में दोपहर के वक्त तेज बारिश और ओलावृष्टि हुई। स्थिति यह है कि खेतों में खड़ी या खलिहानों में रखी अधिकांश फसलें पूरी तरह बर्बाद हो गई। उमरिया में ओलों की चपेट में आने से कई पक्षियों की मौत हो गई। जिले के ग्रामीण क्षेत्र और जंगल से लगे गांवों से मिली सूचना के अनुसार ओलावृष्टि के कारण भारी संख्या में पक्षियों की मौत हुई है।

सीधी जिले में गुरुवार रात करीब 11:30 बजे जिले के मझौली और सीधी ब्लॉक में जमकर ओले गिरे हैं। करीब 7 मिनट तक गिरे ओलों का वजन 50 से 100 ग्राम तक था। ओलावृष्टि से फसलें तबाह हो गई। दलहन और तिलहन सहित गेहूं की फसलों को भी नुकसान पहुंचा है। इसके अलावा पेड़, सब्जियां, पालतू पशु समेत घरों में भी नुकसान पहुंचा है। शुक्रवार सुबह कलेक्टर के साथ अधिकारियों ने ओला प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने तत्काल सर्वे कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।

शुक्रवार सुबह आंधी, पानी के दौरान किरर गांव में सुबह करीब 7 बजे एक घर पर आकाशीय बिजली गिरी। इससे घर के अंदर की विद्युत लाइन पूरी तरह से जल गई। घर में मौजूद सोमवती और बेला दोनों इसमें झुलस गईं। दोनों को जिला अस्पताल अनूपपुर ले जाया गया है।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here