Loading...    
   


अशोकनगर से कलेक्टर सिंह का अपहरण, कार सवार बेहोश कर ले गए | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। इंटर की परीक्षा देकर वापस घर लौट रहे एक किशोर का कार सवार बदमाशों ने अपहरण कर लिया। मौका पाकर अपह्नत किशोर उनके चंगुल से मुक्त होकर ग्वालियर रेलवे स्टेशन जा पहुंचा। आरपीएफ को मिले इस किशोर को अशोकनगर पुलिस की मौजूदगी में उसे परिजनों को सौंप दिया। अपहृत बालक का नाम कलेक्टर सिंह है।

आरपीएफ निरीक्षक एएस पांडे ने बताया कि 12 मार्च को मुंगावली जिला अशोकनगर निवासी सत्रह वर्षीय किशोर कलेक्टर सिंह पुत्र बलराम सिंह अहिरवार कक्षा बारहवीं की परीक्षा देकर वापस घर लौट रहा था। इसी बीच घर से कुछ दूर पहले कार सवार चार बदमाशों ने उसे कार में पटका और दवा सुंघाकर बेहोश कर दिया।

आरपीएफ ग्वालियर ने जब किशोर के बारे में जब अशोक नगर पुलिस से पड़ताल की तो पता चला कि गायब हुए किशोर की गुमशुदगी 13 मार्च को उसके परिजनों ने मुंगावली थाना पुलिस में दर्ज कराई थी। किशोर के ग्वालियर में मिलने की सूचना पर मुंगावली एसआई एसएन वर्मा के साथ ग्वालियर पहुंचे परिजनों को किशोर कलेक्टर को परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

कलेक्टर का अपहरण करने के बाद बदमाश उसे किसी हाइवे पर स्थित एक ढाबे पर लेकर पहुंचे और अपनी निगरानी में रखते हुए उससे दो दिनों तक बर्तन धुलवाए। किशोर बदमाशों को गहरी नींद में सोता देख चकमा देकर भाग कर ग्वालियर स्टेशन जा पहुंचा। प्लेटफार्म नंबर चार पर गश्त कर रहे आरपीएफ एसआई आरके वैद्य ने उसे घबराया हुआ देख पूछताछ की तो उसने पूरा मामला एक ही सांस में बयां कर दिया।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here