Loading...    
   


रेत माफिया ने लड़की को छेड़ा, उसके भाई को पीटा, पुलिस कंप्लेंट की तो किडनैप कर ले गए | BHOPAL NEWS

भोपाल। कमलनाथ सरकार अखबारों में माफिया के खिलाफ अभियान के बड़े-बड़े विज्ञापन जारी कर रही है। विज्ञापनों से माफिया कैसे खत्म होगा यह तो सरकार ही जाने लेकिन एक काम जरूर होगा और वह यह कि अखबारों में माफिया की ऐसी वारदातों की खबर दबाकर छापी जाएगी जिससे सरकार के माथे पर कलंक लगता हो, लेकिन जमीनी हकीकत छुपाई नहीं जा सकती। कल कोलार में एक रेत माफिया ने पुलिस को काटकर जंगल में फेंक देने की धमकी दी थी। आज दूसरी खबर आई है कि रेत माफिया ने अपने भाइयों के साथ जा रही है कि लड़की के साथ सरेआम छेड़छाड़ की। भाई ने विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की। उन्होंने पुलिस कंप्लेंट की तो भाई को किडनैप कर ले गए।

अब राहगीरों को भी तंग करने लगे हैं रेत माफिया

इस बार मामला मामला मंडीदीप से मिसरोद इलाके का है। यह वही इलाका है जहां रेत माफिया खुलेआम रेत का अवैध परिवहन करता है। रात 12:00 बजे के बाद और सुबह 6:00 बजे से पहले इस इलाके में बिना नंबर की डंपर आते जाते हुए आसानी से देखे जा सकते हैं। अमित मालवीय जो एक प्राइवेट कंपनी में काम करते हैं। मंडीदीप में एक शादी समारोह से शामिल होकर लौट रहे थे। रेत माफिया का शिकार हो गए। माफिया ने फिल्मी स्टाइल में उनके साथ वारदात को अंजाम दिया। 

रेत माफिया ने फिल्मी स्टाइल में गंदे कमेंट किए फिर मारपीट करने लगा

अमित मालवीय अपनी कार से अपने भाई और बहन को लेकर वापस घर जा रहे थे कि तभी रास्ते में कुछ लोगों ने फब्तियां कसना शुरू कर दिया। घटना रात करीब 8:30 बजे की है। अंधेरा गहरा नहीं हुआ था और ट्रैफिक भी चल रहा था। फिर भी रेत माफिया बेखौफ था। बदमाशों के गंदे कमेंट के चलते अमित मालवीय ने अपनी कार रोक दी। माफिया की हिम्मत देखिए उसने भी अपनी कार रोक दी। जब अमित ने उनके गंदे कमेंट का विरोध किया तो वह लोग मारपीट पर उतारू हो गए। इसी दौरान एक SUV कार भी मौके पर पहुंच गई। इसमें सवार लोग अमित और उसकी बहन भाइयों के साथ हाथापाई करने लगे। अमित किसी तरह बचकर वहां से निकला और सीधे मंडीदीप पुलिस के पास जा पहुंचा।

पुलिस में शिकायत की तो किडनैप कर ले गए

मंडी पुलिस थाने में इस घटना की शिकायत करने के बाद अमित मालवीय भोपाल स्थित अपने घर के लिए खाने लगा। तभी रास्ते में एक कार शोरूम के सामने फिर से रेत माफिया ने उसे घेर लिया और उसकी कार के सामने अपनी कार खड़ा कर उसे रोक दिया। यह सब कुछ सरेआम बीच रोड पर हो रहा था। रेत माफिया के गुरुओं ने अमित की कार में जमकर तोड़फोड़ की। अमित पर हमला किया और फिर उसे किडनैप करके अपने साथ ले गए। 

फॉर्च्यून सौम्या कॉलोनी में बंधक बनाकर पीटा

पुलिस का कहना है कि अमित मालवीय को मंडीदीप स्थित फॉर्च्यून सौम्या कॉलोनी के अंदर ले जाया गया था। यहां एक कमरे में बंद करके उसे जमकर मारपीट की गई क्योंकि उसने माफिया के खिलाफ शिकायत करने की हिम्मत कर ली थी। मिसरोद थाना पुलिस ने घटनास्थल से अमित को तो मुक्त करा लिया परंतु माफिया या उसके गुर्गों को गिरफ्तार नहीं कर पाई।

आरोपियों में रेत कारोबारी अभिलाष मारण का नाम

टीआई निरंजन शर्मा का कहना है कि पीड़ित के साथ उन्होंने बहुत तलाश की पर आरोपित नहीं मिले। उसके बाद आरोपित अभिलाष मारण और उसके साथियों के खिलाफ मारपीट, अपहरण सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया। बताया जा रहा है कि हमलावर रेत के कारोबार से जुड़े हुए हैं। पुलिस मामले में हर पहलू की बारीकी से जांच कर रही है।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here