Loading...    
   


छतरपुर में महंत के खिलाफ शिष्या के साथ रेप का मामला दर्ज | MP NEWS

छतरपुर। शहर के संकट मोचन मंदिर के महंत रामदास महाराज पर एक महिला की शिकायत पर कोतवाली थाने में दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है। महिला का आराेप है कि महंत ने उसे शिष्या बनाकर अपने साथ मंदिर में ही रहने की जगह दी थी। बाद में उसके साथ कई बार जबरन दुष्कर्म किया। महंत फरार है, पुलिस उसकी तलाश में जुट गई है। महिला ने कोतवाली में महंत के खिलाफ केस दर्ज कराया है।

महिला का कहना है कि उसका करीब 20 साल पहले महाेबा में विवाह हुआ था। करीब 8 साल पहले वह अपने पति से अलग हाे गई। इसके बाद वह इलाहाबाद कुंभ गई। आध्यात्म की तरफ ध्यान होने के कारण वह तीर्थ क्षेत्रों में रहती थी। इसी दौरान घूमते हुए सितंबर 2019 में छतरपुर पहुंची। छतरपुर में वह संकट माेचन मंदिर में महंत रामदास से मिली। महंत ने उसे दीक्षा देने और मंदिर में ही रहकर भगवान की सेवा करने की बात कही।

सितंबर में मेरे साथ किया दुष्कर्म : पीड़ित 

पीड़ित महिला का कहना है कि मंदिर में रहते हुए ही महंत ने उसके साथ सितंबर माह में ही दुष्कर्म किया। इसके बाद दिसंबर 2019 तक कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया। महिला की रिपाेर्ट पर काेतवाली पुलिस ने महंत के खिलाफ धारा 376, 506 भारतीय दंड विधान के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है। प्रकरण दर्ज हाेने के बाद से ही महंत फरार है। पुलिस उनकी खोज-बीन कर रही है।

बाबा समर्थकों ने कहा- महंत जी पर आरोप झूठे  

इस मामले में बाबा के समर्थकों का कहना है कि ट्रस्ट की जमीन हड़पने के चक्कर में राजनीतिक षड्यंत्रकारियों ने महंत पर झूठा मामला दर्ज कराया है। महिला महंत से उसकी संपत्ति में लिखित में हिस्सा की मांग कर रही थी। इसके लिए लगातार धमकियां दी जा रही थीं। पुलिस का कहना है कि जांच में सभी एंगल शामिल किए जाएंगे।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here