UMANG HELPLINE TOLL FREE NUMBER: मप्र स्कूल शिक्षा विभाग का विद्यार्थियों के लिए सहायता केंद्र
       
        Loading...    
   

UMANG HELPLINE TOLL FREE NUMBER: मप्र स्कूल शिक्षा विभाग का विद्यार्थियों के लिए सहायता केंद्र

भोपाल। school education department Madhya Pradesh (स्कूल शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश) ने स्टूडेंट्स की व्यक्तिगत समस्याओं को सुलझाने के लिए उमंग हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। इसका शुभारंभ 13 जनवरी 2020 को स्कूल शिक्षा मंत्री डॉक्टर प्रभुराम चौधरी ने किया।

मध्य प्रदेश उमंग हेल्पलाइन में स्टूडेंट्स को किस तरह की मदद मिलेगी

प्रशासन अकादमी में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी सहित स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारी कार्यक्रम में मौजूद थे। उद्धाटन के बाद चौधरी ने कहा कि इस तरह की हेल्पलाइन बनाने वाला मध्यप्रदेश पहला राज्य है। इसमें 10 से 19 साल तक के किशोरों के मन की समस्याओं को सुलझाया जाएगा। साथ ही उनकी पहचान और शिकायत भी गोपनीय रख जाएगी। मंत्री ने कहा कि अकसर किशोर अपनी समस्या न तो परिजनों और न ही शिक्षकों को बताते हैं। उनकी समस्या का समाधान इस हेल्पलाइन नंबर के जरिए होगा। विद्यार्थी खुलकर अपनी समस्या काउंसलरों को बता सकते हैं।

मध्य प्रदेश शिक्षा विभाग की उमंग हेल्पलाइन का टोल फ्री नंबर

इस राज्य स्तरीय हेल्पलाइन के तहत टोल फ्री 14425 नंबर पर सोमवार से शनिवार तक सुबह 8 से रात 8 बजे तक किशोरों की समस्याओं को सुलझाने के लिए काउंसलर उपलब्ध होंगे। इसमें किशोरों के अलावा उनके अभिभावक और शिक्षक भी किशोरों की समस्याओं से जुड़े सवालों को लेकर हेल्पलाइन नंबर पर उचित मार्गदर्शन प्राप्त कर सकेंगे।

साथ ही विकासखंड स्तर पर किशोर परामर्श केंद्र की स्थापना भी की जाएगी। कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव रश्मि अरुण शमी, आयुक्त जयश्री कियावत, राज्य शिक्षा केंद्र की संचालक आईरीन सिंथिया, यूनाइटेड नेशंस पॉपुलेशन फंड (यूएनएफपीए) इंडिया की प्रतिनिधि अंर्जेटीना माटावेल पिक्किन सहित विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

शिक्षकों को भी किया जाएगा प्रशिक्षित

विभाग की ओर से प्रत्येक विकासखंड में टेली कांउसिलिंग के लिए एक परामर्श केंद्र की स्थापना की जाएगी। साथ ही काउंसलर स्कूलों में जाकर शिक्षकों को भी प्रशिक्षित करेंगे।

इससे संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं

इस हेल्पलाइन सेवा के जरिए किशोरों की परीक्षाएं से संबंधित सभी तरह की जिज्ञासाओं का समाधान किया जाएगा। साथ ही तनावरहित रहकर परीक्षा की तैयारी कैसे करें, शारीरिक व मानसिक समस्याओं से संबंधित जिज्ञासाओं का समाधान किया जाएगा। घर से स्कूल या कोचिंग जाते समय सुरक्षा के लिए क्या सावधानियां रखें, करियर और जीवन कौशल विकास संबंधित परामर्श भी दिया जाएगा।