Loading...

आकाश विजयवर्गीय से SP बनकर 10 लाख रुपए मांगे | INDORE NEWS

इंदौर। विधायक आकाश विजयवर्गीय (Akash Vijayvargiya) से 10 लाख रुपए ठगने की कोशिश करने वाले राजस्थान के शातिर ठग को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। आरोपी एसपी, विधायक, मजिस्ट्रेट बनकर 16 जिलों में 60 से ज्यादा लोगों से लाखों रुपए ठग चुका है। एसपी पूर्व मोहम्मद यूसुफ कुरैशी ने बताया कि आरोपी सुरेश उर्फ भैराराम घांची ने 9 जनवरी को एसपी बनकर विधायक आकाश विजयवर्गीय को फोन किया। उसने कहा कि वह इंदौर एसपी यूसुफ कुरैशी बोल रहा है। उनके रिश्तेदार को तत्काल 10 लाख रुपए की जरूरत है। राशि एक अकाउंट नंबर में आरटीजीएस करवा दें। 

आकाश विजयवर्गीय ने शक होने पर एसपी कुरैशी से फोन पर चर्चा की तो उन्होंने रुपए की मांग से इनकार किया। एसपी ने क्राइम ब्रांच एएसपी अमरेंद्र सिंह चौहान से जांच करवाई तो आरोपी की राजस्थान में लोकेशन मिली। इस पर टीम राजस्थान के पाली पहुंची। पुलिस को आरोपी के फालना स्टेशन पर होने की सूचना मिली। जैसे ही उसने पुलिस को देखा, वह भागने लगा। पुलिस ने फालना स्टेशन पर दो किमी पीछा कर उसे पकड़ा। आरोपी राजस्थान में मिस्टर नटवरलाल के नाम से चर्चित है। गौरतलब है कि हाल में ही भोपाल में कुलपति की नियुक्ति के लिए राज्यपाल को गृहमंत्री अमित शाह के नाम से फर्जी फोन और ग्वालियर में कमिश्नर एमबी ओझा को हाईकोर्ट जज के नाम से फोन करने के मामले सामने आ चुके हैं।

16 जिलाें में ठगी कर चुका है

जोधपुर, जयपुर व मारवाड़ जंक्शन में विधायक के नाम से लाखों रुपए की ठगी कर चुका है। माउंट आबू में मजिस्ट्रेट के नाम से 6 लाख रुपए ठग चुका है। जोधपुर रेंज के आईजी, पाली एसपी, जालोर के एएसपी के नाम से भी लोगों से रुपए मांग चुका है। जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, बीकानेर, सिरोही, जालोर, सीकर, चूरू, राजसमंद, चित्तौड़गढ़, नागौर, हनुमानगढ़, बाड़मेर व गंगानगर सहित 16 जिलाें में विधायक, मजिस्ट्रेट, आईजी, एसपी, एएसपी से लेकर थानेदार की आवाज में बात कर ठगी कर चुका है। वह मिमिक्री आर्टिस्ट भी है।