Loading...    
   


मोस्ट वांटेड जीतू सोनी की संपति कुर्क किये जाने का आदेश | INDORE NEWS

इंदौर। संझा लोकस्वामी अखबार के मालिक एवं इंदौर के कारोबारी जीतू सोनी की संपत्ति कुर्क किए जाने के आदेश जारी हो गए हैं। जीतू सोनी के खिलाफ 50 से ज्यादा मामले दर्ज हैं। संपत्ति कुर्की के आदेश एक अन्य पत्रकार की संपत्ति पर अतिक्रमण के मामले में जारी हुए हैं। 

जिला लोक अभियेाजन अधिकारी मो. अकरम शेख द्वारा बताया कि, न्‍यायालय श्री भूपेन्‍द्र आर्य न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट प्रथम श्रेणी इंदौर के द्वारा थाना एमआईजी के अप.क्र. 657/19, धारा 420, 467, 468, 469, 471, 120-बी भादवि के आरोपी जीतू उर्फ जितेन्‍द्र सोनी निवासी 1107 आलोक नगर इन्‍दौर के विरूद्ध उक्‍त अपराध में गिरफ्तारी न होने पर उसके विरूद्ध माननीय न्‍यायलय से धारा 73 द.प्र.सं. का वारंट जारी करवाया गया था। तलाश करने पर भी जब आरोपी जीतू सोनी का कोई पता नही चला तो फरारी पंचनामा तैयार किया गया एवं  गिरफ्तारी हेतु दिनांक 17/12/19 को न्‍यायलय से फरार आरोपी की उपस्थिति हेतु धारा 82 द.प्र.स. की उद्धोषणा हेतु कार्यावाही की गई थी जिसके तहत आरोपी को दिनांक 17/01/20 को न्‍यायालय के समक्ष उपस्थित होना था। 

उपस्थित न होने पर आरोपी के विरूद्ध धारा 83 द.प्र.स. के अंतर्गत उसकी उपस्थिति सुनिश्‍चित करने हेतु उसकी सम्‍पतियों को कुर्क किये जाने हेतु न्‍यायलय द्वारा फरार आरोपी की निम्‍न संपतियों होराईजन स्‍टूडियो अपार्टमेन्‍ट न.203, 220, 303, 306, 314, 408, 409, 410, 411, 412, 414 पता 4/2 , 4/1/2 मेजर जगदाले मार्ग साउथ तुकोगंज इन्‍दौर को कुर्क किये जाने हेतु जिला कलेक्‍टर इंदौर को कुर्की वारंट जारी किया गया। 

अभियोजन की कहानी संक्षेप में इस प्रकार है कि फरियादी रविन्‍द्र पंडित पिता लक्ष्‍मणराव पंडित वर्तमान निवासी बी-504 मनुस्‍मृति को-आपरेटिंग हाउसिंग सोसायटी डोंगरीवाला घोरबंदर रोड थाणे बेस्‍ट को इंदौर विकास प्राधिकरण द्वारा मेरे समाचार पत्र दैनिक नवीन के लिए 1987 में प्रेस कॉम्‍प्‍लैक्‍स में एक भूखंड आवंटित किया गया था। इन्‍दौर विकास प्राधिकरण से उक्‍त भूखण्‍ड का पंजीयन मेरे द्वारा 12 फरवरी 1988 को कराया गया था। प्राधिकरण द्वारा मेरे साथ सभी पत्राचार दैनिक नवीन समाचार पत्र के नाम से ही पत्र व्‍यवहार किया जाता रहा जिसका मैं स्‍वामी रहा हूं। 

1991 में बीमारी के कारण मुझे इन्‍दौर छोडना पडा और मैं जब से उक्‍त भूमि के संबंध में अनभिज्ञ रहा बाद में पता चला कि मेरे ही सहयोगी रविन्‍द्र कुमार निगम ने उक्‍त संपत्ति का वर्षो का उपयोग करने के बाद उसे जितेन्‍द्र सोनी को सौंप दिया। उसके बाद रविन्‍द्र कुमार निगम और जीतू उर्फ जितेन्‍द्र सोनी द्वारा धोखाधडी पूर्वक दस्‍तावेज रच उक्‍त भूखण्‍ड पर अनाधिकृत कब्‍जा कर उसमें समाचार पत्र लोकस्‍वामी चलाया जा रहा है। आज भी उक्‍त भूखण्‍ड इन्‍दौर विकास प्राधिकरण में दैनिक नवीन के नाम पर ही दर्ज है। 

लेकिन रविन्‍द्र निगम एवं जीतू सोनी द्वारा मिलकर षडयंत्र पूर्वक एक नवीन टायटल नवीन इन्‍दौर का कूटरचित एवं फर्जी दस्‍तावेज के आधार पर पंजीयन कराकर उस पर कब्‍जा कर लिया है एवं प्रयोग किया जा रहा है। उक्‍त भूखण्‍ड इन्‍दौर विकास प्राधिकरण द्वारा मुझे आवंटित किया गया था परन्‍तु उक्‍त षडयंत्र द्वारा आरोपीगण ने दस्‍तावेज कूटरचित कर कब्‍जा कर लिया है। उक्‍त कब्‍जा दिलाया जाए उस पर से थाना एमआईजी में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here