ग्वालियर एवं आसपास के लोगों के लिए सभी असाध्य रोगों का इलाज: वन मेला शुरू | GWALIOR VAN MELA 2020

ग्वालियर। ग्वालियर में वन मेला का शुभारंभ हो गया है। ज्यादातर लोग इस मेले की विशेषताएं नहीं जानते। उन्हें लगता है कि यह जंगल और जंगल से जुड़े लोगों के लिए है लेकिन असल में यह एक आयुर्वेदिक कैंप है। यहां आपको वह जड़ी बूटियां मिल जाएंगे जो आपके बाजार में नहीं मिलती। किसी भी प्रकार का असाध्य रोग जिसके इलाज के लिए आप मोटी रकम और समय खर्च कर रहे हैं, प्रसिद्ध वेद और आयुर्वेदिक दवाइयां यहां मिलेंगी।

ग्वालियर में वन मिला का एड्रेस

श्रीमंत माधवराव सिंधिया ग्वालियर व्यापार मेला प्रांगण में मप्र राज्य लघुवनोपज संघ भोपाल द्वारा आयोजित वन मेला 2020 का शुभारंभ हो गया है। आपको इसकी तलाश में किसी जंगल में नहीं जाना पड़ेगा। यह मेला 15 जनवरी से शुरू हुआ है और 15 फरवरी 2020 तक लगा रहेगा। 

भोपाल वन मेला में दूसरे प्रदेशों के मरीज भी आते हैं 

मध्य प्रदेश में सबसे प्रसिद्ध वन मेला भोपाल में आयोजित किया जाता है। यहां कई प्रतिष्ठित और अनुभवी वेद आते हैं। केवल मध्य प्रदेश ही नहीं आसपास के कई राज्यों के मरीज भोपाल वन मेले का इंतजार करते हैं। उर्मिला की सबसे खास बात यह है कि यहां वह जड़ी बूटियां भी मिल जाती है जो बाजार में ढूंढने पर भी नहीं मिलती।