Loading...

ग्वालियर में शिक्षक हादसे का शिकार, इलाज ना मिलने से मौत | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। एक सरकारी स्कूल के शिक्षक की सीढिय़ों से गिरने के कारण मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम की प्रक्रिया के लिए भेजकर मर्ग कायम किया है। मामला गिरवई थाना क्षेत्र का है। मृतक के भतीजे ने गुरूवार को जानकारी देते हुए बताया कि मेरे चाचा नंदराम पुत्र जगराम उम्र 45 डबरा के एक गांव के सरकारी स्कूल में शिक्षक हैं। उनका निवास इमली नाका,अजयपुर ग्राम इंडियन ओवरसीज बैंक के पास है। बुधवार की रात उन्होंने भोजन किया और वे ऊपर अपने कमरे में जाने के लिए सीढिय़ों से गए।

इस दौरान उनका पैर फिसला और वे नीचे गिरकर आंगन में सुप्त अवस्था में आ गए। वहीं उनके सिर से खून भी बहने लगा। हादसे के बाद उन्हें उनका बेटा शिवम और अन्य लोग सिम्स अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टरों ने इलाज न करते हुए नंदराम को जयारोग्य अस्पताल के लिए रैफर कर दिया। यहां पर तैनात डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 

इधर मृतक के परिजनों ने बताया कि हम उन्हें कैंसर हिल स्थित सिम्स अस्पताल ले गए। इस अस्पताल में रात के समय डॉक्टर और कंपाउडर ने उन्हें देखा और भर्ती करने की बात कही। इस प्रक्रिया में बहुत सारा समय निकल गया। अचानक से एक डॉक्टर ने कहा कि आप इन्हें जयारोग्य में ले जाएं। परिजन ने आरोप लगाया कि उनके इलाज में लापरवाही बरतने से नंदराम की मौत हुई है।

पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल
इधर अपने पति की मौत की सूचना मिलने के बाद मायके गई पत्नी शीला भी बदहवास हालत में सूचना मिलने के बाद घर आईं तो निधन की सूचना पाकर वे बेहोश हो गईं। उक्त महिला को पति की मौत से गहरा सदमा लगा है।