पत्नी के मृत घोषित होते ही बॉडी छोड़कर भाग गया पति | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। सिंहपुर रोड स्थित देसाई नगर में गुरुवार की सुबह नवविवाहिता पिंकी शर्मा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। ससुराल वाले शव को गोला का मंदिर स्थित प्राइवेट हॉस्पिटल में छोड़कर भाग गए। मृतका के पिता शंभूदयाल शर्मा ने आरोप लगाया कि दो साल पहले ही बेटी की शादी जीतू उर्फ जितेंद्र शर्मा के साथ की थी। शादी के बाद से ही ससुराल वाले बेटी को परेशान कर रहे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि ससुराल वालों ने ही उनकी बेटी की हत्या की है। मुरार थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

देसाई नगर निवासी पिंकी शर्मा को उसका पति व अन्य ससुराल वाले बेहोशी की हालत में इलाज के लिए गोला का मंदिर स्थित प्राइवेट हॉस्पिटल में लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। पिंकी की मौत की सूचना मिलते ही पिता शंभूदयाल शर्मा अन्य रिश्तेदारों के साथ अस्पताल पहुंचे। मायके पक्ष को अस्पताल में पिंकी का शव रखा मिला। उसके गले पर फांसी के निशान साफ नजर आ रहे थे। परिजनों ने आरोप लगाया है कि पिंकी की शादी करीब दो साल पहले हुई थी। उसके ससुराल वाले उसे शुरू से ही आए दिन धमकी देते थे कि ससुराल से पैसा लाओ। जब उसने पैसे लाने से मना कर दिया तो यह घटना समाने आई है। वहीं उनका कहना है कि पिंकी की मौत के बाद उसका पति पत्नी की बॉडी को वही छोड़कर मौके से फरार हो गया।

शंभूदयाल शर्मा निवासी सिद्धेश्वर नगर ने बताया कि उन्होंने अपनी 26 साल की बेटी पिंकी शर्मा की शादी 11 दिसंबर 2017 को जितेंद्र उर्फ जीतू के साथ की थी। शादी के बाद से ही ससुराल वाले पिंकी को परेशान कर रहे थे। रात को ही पिंकी ने कॉल कर बताया था कि उसके साथ मारपीट की गई है। सुबह वह ड्यूटी से समय निकालकर बेटी के पास जाते, लेकिन सुबह 10 बजे ही दामाद जीतू ने बताया कि पिंकी ने फांसी लगा ली है। मैं घर पहुंचा तो वहां कोई नहीं मिला। अस्पताल में बेटी का शव स्ट्रेचर पर रखा मिला। गले पर निशानों से साफ है कि ससुराल वालों ने ही पिंकी की हत्या की है। पुलिस घटना की वास्तविकता का पता लगाने के लिए जांच कर रही है।