दिल्ली चुनाव: कपिल मिश्रा के बाद अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर भी बैन | DELHI ELECTION NEWS
       
        Loading...    
   

दिल्ली चुनाव: कपिल मिश्रा के बाद अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर भी बैन | DELHI ELECTION NEWS

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने भाजपा प्रत्याशी कपिल मिश्रा के बाद भारतीय जनता पार्टी के नेता एवं केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और सांसद प्रवेश वर्मा के प्रचार पर भी बैन लगा दिया है। मामला दिल्ली विधानसभा के चुनाव का है। तीनों नेताओं पर आरोप है कि उन्होंने आपत्तिजनक बयान दिए। 

चुनाव आयोग ने अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा को तलब किया

चुनाव आयोग ने अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा को तलब किया है। चुनाव आयोग ने दोनों के मामले में फैसला होने तक दोनों के प्रचार पर रोक लगा दी है। भारत के चुनाव आयोग ने दोनों नेताओं को 28 जनवरी को नोटिस भेजकर जवाब मांगा था। एक दिन बाद ही चुनाव आयोग ने उन पर एक्शन ले लिया। चुनाव आयोग का यह आदेश अंतरिम है। दोनों नेताओं को गुरुवार 12 बजे तक जवाब देने का वक्त दिया था। इसके बाद आयोग की बैठक में इन पर अंतिम फैसला लिया जाएगा।

अनुराग ठाकुर ने रिठाला रैली में विवादित नारे लगवाए थे

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने 27 जनवरी को रिठाला में रैली की थी। इस रैली का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें ठाकुर कहते हुए सुनाई दे रहे हैं "देश के गद्दारों को.....'। कांग्रेस ने इसे ध्रुवीकरण की कोशिश बताया था। इसके बाद चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस भेजकर जवाब मांगा था।

सांसद प्रवेश वर्मा ने भड़काने वाला बयान दिया था

पश्चिम दिल्ली से सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री साहिब सिंह वर्मा के बेटे प्रवेश वर्मा ने 28 जनवरी को कहा था, "शाहीन बाग में लाखों लोग जमा हैं। दिल्ली की जनता को सोच-विचारकर ही फैसला लेना चाहिए। वे आपके घरों में घुस जाएंगे, आपकी मां-बहनों से दुष्कर्म करेंगे और उन्हें मार देंगे।"  वर्मा के इस बयान पर इसी दिन चुनाव आयोग ने संज्ञान लिया था और उन्हें नोटिस भेजकर जवाब मांगा था। 

कपिल मिश्रा ने दिल्ली चुनाव को भारत-पाकिस्तान का चुनाव बताया था

दिल्ली की मॉडल टाउन विधानसभा से भाजपा के प्रत्याशी कपिल मिश्रा पर चुनाव आयोग पहले ही 48 घंटे का बैन लगा चुका है। मिश्रा पर यह बैन लगने की वजह उनके द्वारा किया गया एक ट्वीट है। ट्वीट में उन्होंने कहा था कि 8 फरवरी को दिल्ली की सड़कों पर भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला होगा। आयोग ने इस पर कपिल को नोटिस भेजा था और इसके बाद उन पर प्रतिबंध लगाया था।

दिल्ली चुनाव: विवादित बयानों के कारण भाजपा बैकफुट पर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इस मामले पर कहा कि भाजपा चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों का अध्ययन करेगी। अगर हमें जरूरत महसूस होगी तो आयोग को आवेदन या पत्र सौंपेंगे। भाजपा सही और संतुलित ढंग से प्रचार कर रही है। हमारा चुनाव प्रचार दिल्ली के विकास पर केंद्रित है। उन्होंने कहा कि अगर किसी ने गलत लाइन बोली है तो पार्टी उसपर गौर करेगी।