Loading...

भोपाल: हॉस्टल में अनुसूचित जनजाति के 7 वर्षीय छात्र की हत्या | BHOPAL NEWS

भोपाल। राजधानी के पटेल नगर ई-सेक्टर स्थित शासकीय अनुसूचित जनजाति बालक माध्यमिक आश्रम शाला में पहली कक्षा के छात्र 7 वर्षीय सूरज खरते की गला दबाकर हत्या कर दी गई। बच्चा बुधवार रात करीब पौने आठ बजे हॉस्टल की बाथरूम में मिला था। बाद में उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। गुरुवार को जब शव की शॉर्ट पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो उसमें हत्या की पुष्टि हुई। इसके बाद प्रशासन हरकत में आया। 

कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने हॉस्टल अधीक्षिका रेचल राम और सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग के मंडल संयोजक शकील कुरैशी को सस्पेंड कर घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए। हॉस्टल में सूरज अपने बड़े भाई दीपक के साथ रहता था। चौकीदार जगदीश ने पुलिस को बताया कि बाथरूम हॉस्टल के ग्राउंड फ्लोर पर है। उसने ही सबसे पहले बच्चे को देखा था। तत्काल इसकी सूचना अधीक्षिका को दी। फिर बच्चे को अस्पताल ले गए। शॉर्ट पीएम रिपोर्ट के मुताबिक बच्चे के सिर पर चोट का जख्म है, लेकिन मौत की यह वजह नहीं है।

सरकारी हॉस्टल में सीसीटीवी कैमरा नहीं था 

मध्यप्रदेश में सरकार ने स्कूलों और हॉस्टल्स में सीसीटीवी कैमरा अनिवार्य किया है। आए दिन सरकारी अधिकारी प्राइवेट स्कूल और हॉस्टल के निरीक्षण करने पहुंच जाते हैं। स्कूल में सीसीटीवी नहीं मिले तो मान्यता समाप्त हॉस्टल में सीसीटीवी कैमरा नहीं मिला तो हॉस्टल सील करने की धमकी दी जाती है लेकिन सरकार की यह नियम सरकारी हॉस्टल पर लागू नहीं हुए। यहां सीसीटीवी कैमरा नहीं था इसलिए पुलिस को हत्या का कोई सुराग भी नहीं मिल पाया है।