UP POICE के VIDEO हमारे पास भी हैं, हम भी वायरल कर सकते हैं: SP जबलपुर

जबलपुर। उत्तरप्रदेश पुलिस द्वारा सोशल मीडिया पर जबलपुर पुलिस का एक वीडियो वायरल किए जाने के बाद यूपी पुलिस पर हमला बोला है। उन्होने कहा कि यूपी पुलिस ने यह अच्छा नहीं किया। उनके कई वीडियो हमारे पास भी हैं, हम भी वायरल कर सकते थे परंतु हमने ऐसा नहीं किया। कुल मिलाकर अमित सिंह आईपीएस के बयान से एक बात और स्पष्ट हो गई कि उत्तरप्रदेश पुलिस ने भी शांति की स्थापना के नाम पर सार्वजनिक संपत्ति को क्षति पहुंचाई है और उसके सबूत मप्र पुलिस के पास मौजूद हैं। 

तोड़फोड़ करती दिखी पुलिस

यूपी पुलिस ने अपने टि्वटर अकाउंट से एक वीडियो शेयर कर उसमें दिख रहे पुलिसकर्मियों को जबलपुर का बताया है। वीडियो में पुलिस सार्वजनिक संपत्ति के साथ तोड़फोड़ करती दिख रही है। इसी वीडियो को लेकर अब मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश की पुलिस आमने-सामने है। पूरे मामले में जबलपुर के एसपी अमित सिंह ने कहा कि सोशल मीडिया पर यूपी पुलिस का ट्वीट करना ठीक नहीं है। वीडियो् को लेकर टि्वटर-वार पर एसपी ने नाराजगी जताई है। उनका कहना था कि पुलिस, पुलिस होती है और सार्वजनिक तौर पर ऐसे ट्वीट करना ठीक नहीं है।

जबलपुर पुलिस के पास भी हैं वीडियो

एसपी अमित सिंह ने कहा कि जबलपुर पुलिस के पास भी यूपी पुलिस के कई वीडियो मौजूद हैं कानून व्यवस्था के बिगड़ने की स्थिति में ऐसे कई वीडियो वायरल होते हैं। इन वीडियो की सत्यता की जांच होनी चाहिए। वीडियो की पुष्टि के सवाल पर एसपी ने कहा कि वे इस वीडियो की वैधानिकता की जांच करेंगे। उसके बाद अगर ये वीडियो जबलपुर का पाया जाता है, तो दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी। पूरे मामले में गृह मंत्री बाला बच्चन ने भी जांच की बात कही है।