Loading...

किसानों के साथ धरने पर बैठे भाजपा विधायक के खिलाफ मामला दर्ज, शिवराज सिंह भड़के | MP NEWS

सागर। यूरिया ना मिलने से नाराज होकर धरना दे रहे किसानों के साथ धरने पर बैठे भारतीय जनता पार्टी के विधायक प्रदीप लारिया एवं उनके 10 साथियों के खिलाफ पुलिस ने आपराधिक मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि धरना प्रदर्शन के दौरान विधायक ने यातायात बाधित किया। एक राहगीर ने रिपोर्ट दर्ज कराई है।

एसडीएम ने आकर आश्वासन दिया, धरना समाप्त कराया

राज्य विपणन संघ मकरोनिया के गोदाम पर यूरिया खाद लेने आए किसानों ने यूरिया न मिलने व अव्यवस्थाओं के चलते मंगलवार को जमकर नारेबाजी की। किसानों को हो रही परेशानी को देखते हुए नरयावली विधायक प्रदीप लारिया भी यहां पहुंच गए और किसानों की समस्याएं सुनकर उनके साथ धरने पर बैठ गए। मामले की जानकारी लगते ही एसडीएम मौके पर पहुंचे। यूरिया वितरण का आश्वासन मिलने के बाद ही विधायक धरने से उठे। 

विधायक प्रदीप लारिया के खिलाफ धारा 147, 342 के तहत मामला दर्ज

धरना समाप्त हो जाने के बाद पता चला कि विधायक सहित 10 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस का कहना है कि धरना स्थल से गुजर रहे राहगीर गनेश पटेल पिता मुन्ना पटेल 32 निवासी गंभीरिया मकरोनिया ने मामला दर्ज कराया है। गणेश पटेल का आरोप है कि वह अपने रास्ते जा रहे थे विधायक प्रदीप लारिया, बाबूलाल अहिरवार सहित अन्य 10 लोगों द्वारा गलत तरीके से रोका। जिस पर विधायक प्रदीप लारिया सहित अन्य 10 लोगों पर मकरोनिया थाने में धारा 147 (उपद्रव करने) व धारा 342 ( किसी व्यक्ति को गलत तरीके से रोकने) का मामला दर्ज किया गया।

सरकार ने किसान कर्ज माफ नहीं किया, सोसायटियों ने डिफॉल्टर घोषित कर दिया

किसानों का कहना था कि कर्जमाफी के चक्कर में सोसाइटियों ने हम किसानों को डिफॉल्टर घोषित कर दिया है और खाद्य लेने के पहले पैसे जमा करने की बात की जाती है। किसानों की पीड़ा को सुनकर विधायक लारिया ने अधिकारियों से सख्त लहजे में कहा कि व्यवस्था बनाई जाए। यदि अन्नादाता परेशान होगा तो किसानों के साथ मिलकर उग्र आंदोलन किया जाएगा। किसानों के प्रदर्शन के बाद एसडीएम ने आश्वासन दिया कि कल से स्थानीय सोसाइटियों से किसानों को खाद्य मिलने लगेगा, जिससे उन्हें भटकना न पड़े और गोदाम से भी 100 किसानों को रोज गोदाम से भी खाद्य का वितरण किया जाएगा। कांग्रेस सरकार में महिलाओं को भी खाद्य के लिए घंटों कतारों में लगना पड़ रहा है। वर्तमान सरकार हर मोर्चे पर चाहे वह किसान कर्ज माफी का मामला हो खाद्य वितरण, किसानों को दी जाने वाली बिजली, किसानों को गेहूं के बोनस फैल नजर आ रही है।

किसानों के हित के लिए कितने भी प्रकरण दर्ज हो जाएं फर्क नहीं पड़ता: भाजपा विधायक

प्रदेश सरकार किसानों को यूरिया नहीं दे पा रही है। मैंने किसान समस्या की आवाज उठाई है। उनके हित के लिए कितने भी प्रकरण व धारा लग जाएं फर्क नहीं पड़ता।
प्रदीप लारिया, विधायक, नरयावली 

हम इसको चलने वाली मानसिकता को कुचल देंगे: शिवराज सिंह चौहान