IDEA OF INDIA खतरे में है, राहुल गांधी को आडवाणी की तरह रथ यात्रा निकालनी चाहिए: दिग्विजय सिंह
       
        Loading...    
   

IDEA OF INDIA खतरे में है, राहुल गांधी को आडवाणी की तरह रथ यात्रा निकालनी चाहिए: दिग्विजय सिंह

नई दिल्ली। दिग्विजय सिंह ने कहा कि राहुल गांधी का पार्टी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देना उन्हें अच्छा नहीं लगा। सिंह ने कहा कि राहुल को इस्तीफा नहीं देना चाहिए था। अपने बयान में उन्होंने कहा, 'राहुल गांधी 2019 के लोकसभा चुनाव में मोदी के विकल्प के तौर पर सामने आए हैं। इस समय उन्हें मोदी सरकार का विरोध करना चाहिए था। 370, NRC, नोटबंदी, राफेल पर राहुल गांधी ने अच्छा स्टैंड लिया है। राहुल गांधी को दोबारा अध्यक्ष बनना चाहिए, मुझे खुशी होगी।' उन्होंने आगे कहा कि देश में राजनीतिक यात्राओं का महत्व है. आडवाणी ने रथ यात्रा निकलकर मंदिर मुद्दे को राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचाया। राहुल गांधी को धारा 370 के मुद्दे पर फौरन लालकिले से लाल चौक तक की यात्रा करनी चाहिए थी। उन्होंने कहा कि वह राहुल गांधी से मांग करते हैं कि प्रियंका गांधी को साथ लेकर संविधान बचाओ यात्रा पूरे देश में करनी चाहिए। कांग्रेस मैदान में उतरे, क्योंकि देश, संविधान और आइडिया ऑफ इंडिया खतरे में है।

अब अटल-आडवाणी की पार्टी नहीं रही बीजेपी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि वह अपने आप को विश्व की सबसे पुरानी पार्टी के सदस्य होने के नाते सौभाग्यशाली मानते हैं। भाजपा (BJP) पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि यह अब अटल-आडवाणी की पार्टी नहीं रही, अब गुजरात मॉडल की मोदी-शाह की पार्टी बन गई है। पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और अमित शाह (Amit Shah) पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा, 'दोनों देश की तहजीब को बर्बाद करने में लगे हैं, जिसे अटल जी ने स्वीकारा और सम्मान दिया, इसको ही तोड़ने में ये लोग लगे हैं।' 

मोदी और शाह रहे निशाने पर

पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह पर सीधा हमला करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि दोनों का एक ही एजेंडा है, कैसे देश के टुकड़े-टुकड़े करें। टुकड़े-टुकड़े गैंग JNU में नहीं है, बल्कि ये दोनों ही हैं। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर एमपी के पूर्व सीएम ने कहा कि कांग्रेस इसके खिलाफ पूरी मजबूती के साथ खड़ी है। किसी भी राज्य में NRC को लागू नहीं होने देंगे। साथ ही NPR के जरिए NRC को लागू करने का प्रयास किया गया तो NPR को भी लागू नहीं होने देंगे। राहुल गांधी को झूठा करार देने को लेकर दिग्विजय ने कहा कि NRC पर राष्ट्रपति कहते हैं कि लागू होगा। गृहमंत्री भी कहते हैं कि इसे लागू करेंगे। भाजपा के घोषणा पत्र में भी यह है। फिर भी पीएम मोदी कहते है कि इस पर कोई बात नहीं हुई। इनसे बड़ा झूठा कौन होगा।