Loading...    
   


थायराइड, डायबिटीज, स्किन और कोलेस्ट्रॉल की अचूक दवा मात्र ढाई रुपए में | Home remedies in Hindi

यदि आप थायराइड से पीड़ित हैं, दांतों में कीड़ा है या मुंह से दुर्गंध आती है। दिन भर सुस्ती छाई रहती है। थकान की समस्या है। किसी भी तरह की त्वचा रोग से परेशान है। कोलेस्ट्रोल गड़बड़ा रहा है। हार्ड अटैक का खतरा है। फाइबर, पोटेशियम और मैग्नीशियम का संतुलन गड़बड़ है तो घबराने की कोई जरूरत नहीं है। सर्दी का मौसम और ढाई रुपए रोज का खर्च आपको उपरोक्त सभी बीमारियों से मुक्त कर देगा। आपको सिर्फ इतना करना है कि ठंड के मौसम में प्रतिदिन एक अमरुद (जामफल) का नियमित रूप से सेवन करें। इसे अपनी डेली डाइट में शामिल कर लें। यह केवल ठंड के मौसम तक ही करना है उसके बाद साल भर की सारी समस्याएं। 

अमरूद की कहानी, भारत में कहां से आया

अमरूद में मौजूद विटामिन और खनिज शरीर को कई तरह की बीमारियों से बचाने में मददगार होते हैं। साथ ही ये इम्‍यून सिस्‍टम को भी मजबूत बनाता है। 17वीं शताब्दी में अमरूद अमेरिका या वेस्टइंडीज से भारतवर्ष में लाया गया। अधिक सहिष्णु होने के कारण इसकी सफल खेती अनेक प्रकार की मिट्टी तथा जलवायु में की जा सकती है की जलवायु में अमरूद इतना घुल मिल गया है कि इसकी खेती यहाँ अत्यंत सफलतापूर्वक की जाती है।। जाड़े की ऋतु में यह इतना अधिक तथा सस्ता प्राप्त होता है कि लोग इसे निर्धन जनता का एक प्रमुख फल कहते हैं। यह स्वास्थ्य के लिए अत्यंत लाभदायक फल है। 

अमरूद खाने के फायदे, कितनी बीमारियों में फायदेमंद है अमरूद

इसमें विटामिन "सी' अधिक मात्रा में पाया जाता है।
इसके अतिरिक्त विटामिन "ए' तथा "बी' भी पाए जाते हैं।
इसमें लोहा, चूना तथा फास्फोरस अच्छी मात्रा में होते हैं।
अमरूद की जेली तथा बर्फी (चीज) बनाई जाती है। इसे डिब्बों में बंद करके सुरक्षित भी रखा जा सकता है। अमरूद मीठा और स्वादिष्ट फल होने के साथ-साथ कई औषधीय गुणों से भरा हुआ है।
सर्दियों में अमरूद खाने के फायदे ही फायदे हैं। दंत रोगों के लिए अमरूद रामबाण साबित होता है।
अमरूद के पत्तों को चबाने से दांतों के कीड़ा और दांतों से सम्बंधित रोग भी दूर हो जाते हैं।
अमरूद हाई एनर्जी फ्रूट है जिसमें भरपूर मात्रा में विटामिन और मिनरल्‍स पाए जाते हैं। ये तत्व हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी होते हैं।
अमरूद में पाया जाने वाला विटामिन ए और ई आंखों, बालों और त्‍वचा को पोषण देता है।
अमरूद में मौजूद लाइकोपीन नामक फाइटो न्‍यूट्र‍िएंट्स शरीर को कैंसर और ट्यूमर के खतरे से बचाने में सहायक होते हैं
अमरूद में बीटा कैरोटीन होता है जो शरीर को त्‍वचा संबंधी बीमारियों से बचाता है।
अमरूद में पाया जाने वाला विटामिन बी-9 शरीर की कोशिकाओं और डीएनए को सुधारने का काम करता।
फल के साथ ही अमरूद की पत्तियों का सेवन मुंह के छालों को दूर करने में कारगर होता है।
अमरूद मेटाबॉलिज्‍म को सही रखता है जिससे शरीर में कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर नियंत्रित रहता है।
विटामिन सी कच्‍चे अमरूद में पके अमरूद की अपेक्षा विटामिन सी अधिक पाया जाता है। इसलिए कच्‍चा अमरूद खाना ज्‍यादा फायदेमंद होता है।
अमरूद का नियमित सेवन करने से कब्‍ज की समस्‍या में राहत मिलती है।
नॉर्मल थायरॉइड में भी डॉक्‍टर अमरूद खाने की सलाह देते हैं।
अमरूद में फाइबर की मात्रा बहुत अधिक होती है इसलिए यह डायबिटिज के मरीजों के लिए बहुत अच्‍छा होता।
अमरूद में मौजूद पोटैशियम और मैग्‍नीशियम दिल और मांसपेशियों को दुरुस्‍त रखकर उन्‍हें कई बीमारियों से बचाता है।
अगर आप अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना चाहते हैं तो अमरूद का सेवन करना बहुत फायदेमंद होगा।
अमरूद के नियमित सेवन से सर्दी जुकाम जैसी समस्‍याओं के होने का खतरा कम हो जाता है।

इसके अलावा भी ये कई औषधीय गुणो के लिए जाना जाता है। सर्दियों का मौसम खान-पान के लिहाज से यूं भी बेहद अच्छा माना जाता है। इस मौसम में फल-सब्जियों और ड्रायफ्रूट्स तक की बहार रहती है। इसलिए ठंड के दिनों में पारंपरिक तौर पर भी बादाम या खसखस के हलवे तथा बाजरा की घी डली खिचड़ी से लेकर अमरूद, पालक, मैथी, गाजर, टमाटर आदि जैसी अनेक पौष्टिक चीजों का मजा आसानी से लिया जाता है। खाने में खट्टे और मीठे दोनों तरह के स्वाद से बने इस फल की खासियत यह है कि यह हर आदमी की पहुंच में आने वाला, सहज उपलब्ध फल है लेकिन गुणों के मामले में यह कई महंगे फलों पर भारी पड़ता है। कुल मिलाकर यह सेहत बनाने के दिन होते हैं।

यह सभी देखें - एप्पल साइडर सिरका (Apple Cider Vinegar) के 6 स्वास्थ्य लाभ (6 health benefits of Apple Cider Vinegar)



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here