Loading...

छिंदवाड़ा में हुए सनसनीखेज बड़कुही हत्याकांड में पुलिस का खुलासा

छिंदवाड़ा: 11 दिसंबर को छिंदवाड़ा के बड़कुही में हुए एक सनसनीखेज हत्याकांड में पुलिस ने खुलासा किया है जिसमें सोहेल उर्फ मिनका की सरेआम चाकू मारकर कुछ लोगों ने हत्या कर दी थी, इस सिलसिले में पुलिस ने खुलासा करते हुए यह बताया कि किस तरह से 4 लोगों ने सोहेल उर्फ़ मिनका की चाकू मारकर हत्या कर दी थी आपको बता दें कि इस हत्याकांड में पुलिस ने जिन 4 लोगों को शक के आधार पर गिरफ्तार किया था उनमें अनुज उर्फ सनी मालवीय उम्र २१ साल, राजू परतेती उम्र २७ साल, नितिन प्रजापति उम्र २२ साल और रुपेश उर्फ़ रिप्पी उम्र 35 साल शामिल है। पुलिस ने अपनी जांच के दौरान इन लोगों से पूछताछ की और पूछताछ में इन लोगों ने अपराध को कबूल कर लिया। पुलिस ने इन चारों आरोपियों के खिलाफ धारा 201 120 बी 34 भी लगा दी है, इसके पहले पुलिस ने इस अपराध में धारा 353/19 और धारा 302 के तहत एफ आई आर दर्ज की थी।


इस सनसनीखेज हत्याकांड के खुलासे के लिए पुलिस ने एक टीम गठित की जिसमें खुद एसपी मनोज राय अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शशांक गर्ग और परासिया के डॉक्टर अरविंद सिंह के साथ कुछ और पुलिसवाले भी शामिल थे इस पुलिस की टीम ने अलग-अलग जिलों के संभावित स्थानों पर दबिश देकर 48 घंटों के अंदर प्रकरण के आरोपियों को गिरफ्तार ले लिया जब पुलिस ने दबिश देकर पूछताछ की तो सभी आरोपियों ने सोहेल उर्फ़ मिनका की हत्या की बात कुबूल की प्राप्त जानकारी अनुसार उनके द्वारा बीते लगभग 2 माह पूर्व गणेश विसर्जन के समय मारपीट कर देने और उसी समय चाकू अड़ा कर 4000 रूपये छीन लेने का सच बताया इसके साथ ही जान से मार देने की धमकी की बात भी स्वीकार की।

अपनी किसी पुरानी पुरानी रंजिश के चलते 11 दिसंबर 2019 को इन चारों लोगों ने सोहेल और मिनका को अकेले बाजार की तरफ जाते देखा तभी अनुज उर्फ़ सन्नी मालवीय राजू परतेती दोनों ही चाकू और लाठी लेकर निकले, उन्होंने स्कूल में पढ़ने वाले साहिल को जबरदस्ती रोका और खुद की पलसर लेकर मिनका का पीछा करने चल दिए। खतरा भापकर सोहेल ने भागने की कोशिश की लेकिन इन लोगों ने उसे बड़े हुई के दुर्गा चौक पर ले लिया पहले लाठी से उसके सिर पर वार किया उसके बाद चाकू उसे उसके शरीर को गोद दिया।

पुलिस ने बताया कि घटना में इस्तेमाल हुए चाकू को इन लोगों ने एक खेत की नाली में छुपा कर रख दिया था फिर नितिन प्रजापति से पेट्रोल मंगवा कर अपने खून लगे हुए कपड़े जूते आदि न्यूटन की पुरानी पुलिस चौकी के पीछे कचरे में डालकर जला दिया। आरोपी अनुज एवं राजू परतेति की निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल हुये 2 चाकू एवं पल्सर मोटरसाइकिल MP 285 MR 8397 बरामद की।

पुलिस की टीम जिसने इस सनसनीखेज़ हत्याकांड का खुलाशा किया उसमे SP मनोज राय, ASP शशांक गर्ग, डॉक्टर अरविन्द सिंह, KS परते, भगवान दास उइके, YP अवस्थी, आर.765 श्याम, आर. 850 राजपाल,आर. 885 संतोष,आर. 461 राजेंद्र पाल शामिल थे।