कोहरे ने ट्रेनों का ट्रैफिक जाम, 60 हजार की फॉग सेफ डिवाइस भी फेल | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। रेल से सफर करने वाले यात्रियों को रातभर रेलों के आने की जानकारी लेने के लिए जागना पड़ा और जो रेलवे स्टेशन पर पहुंच गए वह गर्म कपड़ों में लदे हुए प्लेटफॉर्म पर बैठकर ट्रेनों का इंतजार करते रहे। आलम यह था कि जो ट्रेन देर रात आनी थी वह सुबह आई, जिससे यात्रियों को अच्छी खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। घना कोहरा होने के कारण ट्रेनों की चाल थमी हुई है। 

दिल्ली की ओर से आने वाली ट्रेनें सबसे ज्यादा देरी से ग्वालियर पहुंच रही हैं तो भोपाल की ओर से आने वाली ट्रेनों की रफ्तार भी धीमी है। दिल्ली की ओर से आने वाली ट्रेनें 4 से 5 घंटे देरी से आईं तो भोपाल से आने वाली ट्रेनें 2-3 घंटे देरी से चलीं। रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म एक से चार तक यात्रियों की अच्छी खासी भीड़ लगी है। रेल अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली की ओर से आने वाली शताब्दी सहित सभी ट्रेनें देरी से आ रही हैं, इसका मुख्य कारण यह है कि कोहरा होने के कारण सिग्नल साफ नहीं दिख पा रहे हैं।

यह स्थिति पिछले एक पखवाड़े से बनी हुई है। कोहरे से निजात दिलाने के लिए ट्रेनों में लगी फॉग सेफ डिवाइस भी फेल साबित हो रही है, जबकि एक डिवाइस की कीमत 60 हजार रुपए है। ट्रेनें लेट होने के कारण हजारों यात्रियों की मुश्किलें बढ़ी हैं और जिन्हें जरूरी काम से जाना है वह परेशान नजर आ रहे हैं।

इसलिए नहीं चल रहीं रफ्तार से रेलें रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि लोको पायलटों को फॉग सेफ डिवाइस दी है, लेकिन उसके माध्यम से सिग्नल कलर की जानकारी नहीं मिल रही है, केवल लोकेशन की जानकारी मिलने से ट्रेन को रफ्तार से नहीं चलाया जा सकता। फॉग सेफ डिवाइस से सिग्नल की जगह लोकेशन की जानकारी ही मिल पा रही है।

रातभर स्टेशन पर गुजारी

जिन यात्रियों को जरूरी काम से जाना था वह ट्रेनों की लोकेशन तो लेते रहे लेकिन रेलें घंटों लेट होने की जानकारी नहीं मिलने के कारण वह स्टेशन पर पहुंच गए और जो लोग एंड्रॉयड मोबाइल नहीं चलाते हैं या फिर रेल लोकेशन की जानकारी नहीं निकाल पाते हैं वह भी स्टेशन पहुंच गए। रेलवे स्टेशन पर एनाउंसमेंट द्वारा रेलों की सूचना हर घंटे बाद दी जा रही थी और यात्री परेशान होते हुए रातभर स्टेशन पर बैठे रहे, इस दौरान चाय की दुकानों पर सबसे ज्यादा भीड़ देखी गई।

यह ट्रेनें रहीं लेट

दिल्ली की ओर से आने वाली शताब्दी 1.10 मिनट, कर्नाटक 3.30, श्रीधाम 4 घंटे, केरला 2.15, पंजाब मेल 1.40, छत्तीसगढ़ 2.15, स्वर्ण जयंती 50 मिनट, आंध्रप्रदेश वातानुकूलित 40 मिनट, भोपाल की ओर से आने वाली जम्मूवती स्पेशल 2 घंटे, बुंदेलखंड 4.20, उत्कल 2.10, मंगला 2.40 देरी से चल रही हैं।