22 सहायक प्राध्यापक भूख हड़ताल पर, जीतू पटवारी मिलने आएंगे | MP NEWS
       
        Loading...    
   

22 सहायक प्राध्यापक भूख हड़ताल पर, जीतू पटवारी मिलने आएंगे | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भूख हड़ताल पर बैठने वाले सहायक अध्यापकों की संख्या 22 हो गई है। एक महिला प्राध्यापक की तबीयत खराब होने के कारण अस्पताल में भर्ती हैं। पीएससी चयनित सहायक प्राध्यापक अपने परिवार समेत विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। 

असिस्टेंट प्रोफेसर मेरे परिवार के लोग हैं, मैं मिलने जाऊंगा: मंत्री जीतू पटवारी 

उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी का एक बयान सामने आया है। मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि आंदोलनकारी असिस्टेंट प्रोफेसर उनके परिवार के सदस्य हैं। श्री पटवारी ने कहा कि मैं जब भी भोपाल जाऊंगा, सबसे पहले उनसे मिलूंगा। उच्च शिक्षा मंत्री है नहीं बताया कि वह किस दिन भोपाल पहुंच रहे हैं। 

सरकार दबाव में: अतिथि विद्वानों के बाद अब सहायक प्राध्यापक 

मध्य प्रदेश के सरकारी कॉलेजों में सहायक प्राध्यापक के रिक्त पदों के लिए एक तरफ पीएससी चयनित उम्मीदवार आंदोलन कर रहे हैं तो दूसरी तरफ सरकारी कॉलेज में पढ़ा रहे अतिथि विद्वान मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्वाचन क्षेत्र छिंदवाड़ा पहुंच गए। पुलिस ने पहले तो उन्हें छिंदवाड़ा में घुसने से रोका और फिर हिरासत में लेकर छिंदवाड़ा से दूर छोड़ दिया। अब सरकार सहायक प्राध्यापकों के नीलम पार्क में चल रहे प्रदर्शन को खत्म कराने की रणनीति बना रही है।

भाजपा ने आंदोलन को समर्थन दिया 

भोपाल के नीलम पार्क में चल रहे सहायक प्राध्यापकों के आंदोलन को भारतीय जनता पार्टी ने समर्थन दिया है। विधानसभा में भाजपा विधायक दल के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि हमारी पूरी सहानुभूति प्रदर्शनकारियों के प्रति है। हम विधानसभा में इस मामले को उठाएंगे।