Loading...

शिक्षक संगठनों ने किया 20-50 के अंतर्गत शिक्षकों की अनिवार्य सेवानिवृत्ति का विरोध | MP NEWS

मंडला। शिक्षक महासंघ के आह्वान पर 16 शिक्षकों को 20-50 फार्मूले के अंतर्गत अनिवार्य सेवानिवृत्ति दिए जाने के विरोध में मध्यप्रदेश शिक्षक संघ, मध्यप्रदेश राज्य कर्मचारी संघ, मध्यप्रदेश शिक्षक कांग्रेस संघ, मध्यप्रदेश राज्य गुरुजी संघ और ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एसोसिएशन ने संयुक्त रूप से धरना प्रदर्शन करते हुए अपर कलेक्टर मंडला मीना मसराम को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।  

सभी शिक्षक संगठनों ने 20-50 के फार्मूले के अंतर्गत 16 शिक्षकों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दिए जाने का विरोध करते हुए धरना प्रदर्शन किया। मध्यप्रदेश शिक्षक संघ के अध्यक्ष आसीम गौतम ने सभी शिक्षक संघों से एकजुट होकर शिक्षक विरोधी मुहिम का पुरजोर विरोध करने का आह्वान किया। मध्यप्रदेश राज्य कर्मचारी संघ के अध्यक्ष घनश्याम ज्योतिषी ने पुराने आंदोलनों का उल्लेख करते हुए उपस्थित शिक्षकों में ऊर्जा का संचार किया। मध्यप्रदेश शिक्षक कांग्रेस संघ के विवेक शुक्ला ने कर्मचारी विरोधी 20-50 के फार्मूले का घोर विरोध किया, साथ ही जिले के सभी शिक्षक संघों को एक मंच पर लाने के लिए ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एसोसिएशन के प्रांताध्यक्ष डी के सिंगौर की सराहना की। शिक्षक प्रियदर्शन पटेल ने कड़े शब्दों में शासन प्रशासन को चेतावनी देते हुए 16 शिक्षकों को तत्काल बहाल करने की मांग की। 

मध्यप्रदेश गुरुजी संघ के अध्यक्ष श्याम बैरागी ने गुरुजियों की वरिष्ठता की पीड़ा रखते हुए सरकार के कर्मचारी विरोधी नीतियों का विरोध किया। ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष रविंद्र चौरसिया ने बताया कि जब शिक्षक संघों ने शिक्षा गुणवत्ता के लिए अपने अपने स्तर से प्रयास कर रहे हैं, ऐसे समय शासन प्रशासन शिक्षक विरोधी नीतियों से शिक्षकों में असंतोष का भाव पैदा कर रहा है, जिससे प्रदेश का शिक्षक पूरे मनोयोग से शिक्षा गुणवत्ता पर ध्यान नहीं दे पा रहा है। सभी शिक्षक संघों ने शासन के इस कृत्य को समाज में शिक्षकों की गरिमा के खिलाफ दुष्प्रचार करना बताया। ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एसोसिएशन के प्रांतीय प्रवक्ता  संजीव सोनी ने सभी शिक्षकों का आभार व्यक्त करते हुए आन्दोलन की आगामी रणनीतियों के बारे में जानकारी दी, साथ ही 15 दिसंबर को भोपाल में होने वाले आन्दोलन में शामिल होने की अपील की। कार्यक्रम में सफल मंच संचालन शिक्षक दिलीप मरावी ने की। 

इस अवसर पर दिनेश दुबे, राजकुमार सिंगौर, संतोष गुप्ता, अमरसिंह चंदेला, उदयकांत अवस्थी, अनिल अग्रवाल, पचलू भारतीया, प्रताप पंद्रो, नवीन मिश्रा, मदन कछवाहा, टीकाराम श्रीवास, अर्चना गुमास्ता, , सविता कटारे, रश्मि मरावी, प्रीति सोलंकी, वंदना राजपूत, सीमा साहू, सरिता सिंह, आभा दुबे, अंजू दुबे, राधा उइके, तरला पंद्रो, अनीता धुर्वे, सरोज वरकड़े, रूचि सैनी, सनातन सैनी, आरती ज्योतिषी,  गन्नू लाल भांडे, थानसिह सिंगरौरे, प्रकाश सिंगौर, सुरेश तिवारी, भगवानदास यादव, आसीत लोध,  कमलेश मरावी, उमेश यादव,  विवेक मिश्रा, मोहन यादव, धीरज चौधरी, गौरव अग्रवाल, पी आर मिश्रा प्रियदर्शन पटैल, रविशंकर यादव,रविशंकर साहू,योगेश चौरशिया,रामकुमार पटैल, संपत श्रीवास असीम गौतम  आज के कार्यक्रम में शामिल मध्य प्रदेश शिक्षक कांग्रेस के विवेक शुक्ला राजकुमार सिंगौर शैल दुवे पचलू सिंह भारतीया प्रताप पन्द्रो दालचंद बंशकार, अनिल अग्रवाल, अनिल वर्मा, प्रदीप केसरवानी, खुशी राम पटेल कैलाश पटेल कमल मार्को कृष्ण कुमार उईके हाफिज खान  अजय चक्रवर्ती नवीन मिश्रा उदय कांत अवस्थी दिनेश दुबे मयूर सिंह गोठरिया मूलचंद कुंजाम घनश्याम कुंजाम संतोष गुप्ता चुंगन मार्को उमेश झरिया  आराधना तिवारी, राजेश कुशराम, प्रभात ज्योतिषी, के के सोनवानी,  सहित   सैकडो शिक्षक  ज्ञापन कार्यक्रम में शामिल हुए।