Loading...

गोडसे भक्त सांसद प्रज्ञा: रक्षा मंत्रालय की कमेटी से बाहर, सांसद दल की बैठक में प्रवेश प्रतिबंधित (VIDEO)

भोपाल। हत्यारे नाथूराम गोडसे को बार-बार देशभक्त बताने वाली भारतीय जनता पार्टी की सांसद एवं विश्व हिंदू परिषद के नेता प्रज्ञा सिंह ठाकुर को भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय की सलाहकार समिति से हटा दिया गया है। संसदीय दल की बैठक में भी उनका प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया है। 

भाजपा ने बुधवार को ही तय कर लिया था: प्रज्ञा सिंह ठाकुर के खिलाफ कार्रवाई होगी 

बता दें कि लोकसभा चुनाव के दौरान भी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहा था। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि वे इस बयान के लिए प्रज्ञा ठाकुर को कभी माफ नहीं कर पाएंगे। प्रज्ञा ठाकुर के ताजा बयान पर भाजपा के सभी नेता एक राय हो गए थे। बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि पार्टी पहले ही प्रज्ञा ठाकुर के पहले बयान पर नोटिस दे चुकी है लेकिन प्रज्ञा द्वारा एक बार फिर से इस बयान को दोहराना बापू का अपमान तो है ही ये पार्टी का भी अपमान है। जीवीएल ने कहा कि इसे किसी को भी हल्के में नहीं लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर पार्टी के नेता अनुशासित नहीं रहेंगे तो कार्रवाई की जाएगी। जीवीएल ने कहा कि वे पूरे देश को आश्वासन देना चाहते हैं कि इस मामले में कार्रवाई होगी। 

सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर के खिलाफ भाजपा की कार्यवाही 

नरेंद्र मोदी सरकार ने सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को रक्षा मंत्रालय की सलाहकार समिति से हटा दिया है। बता दें कि हाल ही में प्रज्ञा सिंह ठाकुर को रक्षा समिति में शामिल किया गया था तत्सम अभी आपत्ति उठाई गई थी क्योंकि प्रज्ञा सिंह ठाकुर फिलहाल आतंकवाद के एक मामले में आरोपी है। भाजपा के शब्दों में प्रज्ञा सिंह ठाकुर एक दागी की सांसद है। भारतीय जनता पार्टी ने उनके खिलाफ कार्रवाई करते हुए संसद में संसदीय दल की बैठक में प्रज्ञा सिंह ठाकुर का प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया है।