Loading...

TATA HARRIER के एयर बैग नहीं खुले, हादसे में महिला की मौत 3 घायल

भोपाल। TATA MOTORS LTD कि करीब ₹15 लाख की लग्जरी एसयूवी HARRIER XZ 2.0L KRYOTEC BSIV कार ने धोखा दे दिया। एक्सीडेंट के दौरान उसके सेफ्टी बैग नहीं खुले और कार में सवार महिला यात्री की मौत हो गई। बता दें कि इस तरह की लग्जरी कारों की बिक्री सुरक्षा के नाम पर ही की जाती है। घटना मध्यप्रदेश के मंडला में हुई। रायपुर छत्तीसगढ़ का परिवार हादसे का शिकार हुआ। हादसे में पति पत्नी और 2 बच्चे घायल हुए। पत्नी की मौत हो गई।

मंडला से मिली आधिकारिक सूचना के अनुसार रायपुर से जबलपुर जा रहा एक परिवार सड़क हादसे का शिकार हो गया। उनकी कार मोहगांव थाना के अंतर्गत मंडला निवास मार्ग पर खारी ग्राम के पास एक पेड़ से जा टकराई। जिससे कार सवार दंपती व बेटे-बेटी घायल हो गए। डायल 100 की मदद से घायलों को जिला अस्पताल लाया गया। जहां गंभीर रूप से घायल पत्नी ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। 

मृतका का नाम अंकिता बिरथरे (43) पत्नी संजय बिरथरे गंभीर रूप से घाायल थी। जिसने अस्पताल में दम तोड़ दिया। वहीं अन्य घायलों में पति संजय बिरथरे (45), उनका बेटा स्वास्तविक बिरथरे (17), अनिता बिरथरे (15) भी घायल हुए। जिनका इलाज जिला अस्पताल में किया गया। ये लक्ष्मी नारायण मंदिर कोटा रोड रायपुर निवासी रहने वाले थे। घटना करीब 5 बजे सुबह की बताई गई है।

एयर बैग नहीं खुलने से हुई मौत

बताया गया है कि कार क्रमांक सीजी 04 एमआर 5511 से रायपुर से जबलपुर जा रहे थे। मंडला से जबलपुर टूलेन सड़क निर्माण के चलते मार्ग खराब है। जिसके चलते वे व्हाया निवास होकर जबलपुर जा रहे थे। मोहगांव थाना के अंतर्गत सुबह 5 बजे के लगभग जैसे ही उनकी कार खारी के पास पहुंची। कार अचानक अनियंत्रित हो गई और रेस्ट हाउस के पास ही एक पेड़ से जा टकराई। कार में सुरक्षा के लिए एयर बैग हैं। सभी के एयरबैग तो खुल गए। लेकिन पीछे बैठी पत्नी अंकिता का एयरबैग नहीं खुल पाया। जिसके चलते उसके सिर में गंभीर चोट लगी थी और अंततः उसकी मौत जिला अस्पताल में हो गई। तो वहीं तीन लोगों की जान एयरबैग खुल जाने से बच गई। वरना गंभीर हादसा हो सकता था।

ससुराल जा रहे थे संजय

अस्पताल पुलिस चौकी से मिली जानकारी के अनुसार संजय बिरथरे जो कि रायपुर में चार्टर्ड एकाउंटेंट बताए गए हैं। वे पत्नी सहित अपने ससुराल जबलपुर जा रहे थे। रायपुर से वे जबलपुर के लिए रात 12ः30 बजे के लगभग निकले थे। मंडला से आगे निकलते हुए पत्नी ने पति से कहा भी था कि लाओ मैं कार चला लेती हूं। लेकिन पति संजय का कहना था कि अब तो कुछ ही दूरी बची है और वही कार ड्राइव करते रहे और यह हादसा हो गया। अस्पताल पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में ले लिया है।