Loading...

REWA में मंत्री के सामने धक्का-मुक्की, प्रभारी मंत्री भड़के, भाजपा विधायक बैकफुट पर | MP NEWS

रीवा। मध्य प्रदेश के रीवा में जिला योजना समिति की बैठक के बाद भाजपा विधायक के पी त्रिपाठी ने अपने समर्थकों के साथ प्रभारी मंत्री के सामने नारेबाजी शुरू कर दी। जवाब में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी नारेबाजी की। कलेक्टर कार्यालय परिसर में इस तरह की नारेबाजी से प्रभारी मंत्री भड़क गए। मंत्री लखन घनघोरिया के तेवर देखकर कलेक्टर एसपी भी आते हुए और भाजपा विधायक बैकफुट पर नजर आए। यह सारा हंगामा नगर निगम कमिश्नर के कारण हुआ। 

अचानक भाजपा विधायक ने भी नारेबाजी शुरू कर दी, धक्का-मुक्की करने लगे

कलेक्ट्रेट सभागार में दोपहर 1.10 बजे जिला योजना समिति की बैठक खत्म हुई। प्रभारी मंत्री लखन घनघोरिया सभागार से बाहर निकले। बारी-बारी से जनता की समस्याएं सुन रहे थे। इस बीच NIC कक्ष के सामने भाजपा विधायक केपी त्रिपाठी प्रभारी मंत्री से दोबारा मिलने के लिए पहुंचे। प्रभारी मंत्री भाजपा विधायक से बात करते-करते कलेक्टर न्यायालय कक्ष के सामने पहुंचे थे कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी। इस पर कांग्रेस के कार्यकर्ता भी जबाव में नारेबाजी करने लगे। प्रभारी मंत्री कुछ समझ पाते कि भाजपा विधायक भी कार्यकर्ताओं के साथ नारेबाजी करने लगे। प्रभारी मंत्री शांत कराने की कोशिश की तो, इसके बाद भी भाजपा कार्यकर्ता बेकाबू हो गए। प्रभारी मंत्री के सामने कार्यकर्ताओं में नोक-झोक और धक्का-मुक्की की स्थित बन गई। 

प्रभारी मंत्री भड़के तो सब तितर-बितर हो गए 

माहौल तनावपूर्ण होता देख प्रभारी मंत्री लखन घनघोरिया भी भड़क गए। उन्होंने सबके सामने भाजपा विधायक को खरी-खोटी सुनाना शुरू कर दिया। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जब आपको पर्याप्त समय दिया जा रहा है तो फिर यह ड्रामा क्यों। प्रभारी मंत्री को बढ़ता देख नारेबाजी कर रहे भाजपा और कांग्रेस के कार्यकर्ता तितर-बितर हो गए। विधायक के पी त्रिपाठी भी बैकफुट पर नजर आए हैं। प्रभारी मंत्री का तेवर देख कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक भी सक्रिय हो गए। इसके बाद प्रभारी मंत्री ने सेमरिया विधायक से बात की। 

नगर निगम कमिश्नर की शिकायत करने आए थे

विधायक ने कहा नगर निगम आयुक्त जनप्रतिनिधियों के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं को प्रताडि़त कर रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और पूर्व मंत्री राजेन्द्र शुक्ल को नोटिस जारी की है। नगर निगम आयुक्त लोकसेवा के खिलाफ काम कर रहे हैं। भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष मनीषा पाठक के घर का परमिशन निरस्त कर नोटिस भेजकर परेशान कर रहे हैं। इस मामले में प्रभारी मंत्री ने न्याय दिलाने का आश्वासन दिया है।