Loading...

ज्योतिरादित्य सिंधिया और कमलनाथ एक ही दिन एक ही कार्यक्रम में जाएंगे लेकिन मुलाकात नहीं होगी | MP NEWS

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ के प्रति ज्योतिरादित्य सिंधिया के मन में मौजूद खटास अब सार्वजनिक हो चुकी है। 30 नवंबर को मुरैना में विधायक बनवारी लाल शर्मा के यहां आयोजित विवाह समारोह में इस पर मुहर भी लग जाएगी। इस समारोह में सीएम कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया दोनों आएंगे लेकिन दोनों की मुलाकात नहीं होगी। सीएम का कार्यक्रम आने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कुछ इस तरह अपना कार्यक्रम डिजाइन किया कि दोनों का आमना-सामना भी नहीं होगा।

कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया का आधिकारिक कार्यक्रम

तय कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ 30 नवंबर को दोपहर 12:15 बजे भोपाल से राजकीय विमान से ग्वालियर के लिए रवाना होंगे और 12:45 बजे हवाई अड्डे पर आएंगे। श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया सुबह 9:30 बजे शताब्दी एक्सप्रेस से ग्वालियर आकर दोपहर एक बजे तक शहर में रहेंगे। 1 बजे मुरार में पूर्व विधायक मदन कुशवाह के घर से वे नरवर के लिए रवाना हो जाएंगे। वहीं मुख्यमंत्री ग्वालियर से एक बजे हेलीकॉप्टर से मुरैना जाएंगे और वहां विधायक बनवारीलाल शर्मा के घर में आयोजित शादी समारोह में शामिल होकर दो बजे ग्वालियर लौटेंगे और यहां से भाेपाल के लिए रवाना होंगे। श्री सिंधिया दोपहर बाद 4:15 बजे नरवर से रवाना होकर शाम 7 बजे मुरैना पहुंचेंगे और विधायक बनवारी लाल शर्मा के यहां आयोजित समाारोह में शामिल होकर शताब्दी से दिल्ली रवाना होंगे। 

ग्वालियर मेला के व्यापारियों की उम्मीद टूटी 

ग्वालियर व्यापार मेले के व्यापारियों को उम्मीद थी कि दोनों के मुलाकात होगी और व्यापार मेले को टैक्स छूट पर फैसला हो जाएगा और मेले में पिछले साल की तरह कारोबार हो सकेगा परंतु इस दोनों के दौरा कार्यक्रम जारी होने के बाद सबसे ज्यादा यदि कोई सबसे ज्यादा निराश हुआ है तो वो केवल ग्वालियर मेले का व्यापारी समाज।