Loading...

अंडे की राजनीति पर मंत्री आरिफ अकील, गोपाल भार्गव एवं जीतू पटवारी के चर्चित बयान | MP NEWS

शिवराज सिंह जी, क्या अंडे पर दंगा करवाओगे: मंत्री आरिफ अकील

भोपाल। मंत्री आरिफ अकील ने भी अंडे पर बयान दिया है। उन्होंने शिवराज सिंह को टारगेट करते हुए कहा कि इनके पास अब कोई मुद्दा नहीं बचा। अब क्या अंडे पर दंगा करवाओगे। बता दें कि सरकार ने कुपोषण को मिटाने के लिए आंगनबााड़ियों में मिड-डे मील में अंडो देने का फैसला किया है। भाजपा इसका विरोध कर रही है। 

आप किसी को जबरन खान-पान के मामले में बाध्य नहीं कर सकते

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि "एक कुपोषित सरकार से और उम्मीद भी क्या की जा सकती है। वो बच्चों को अंडा खिलाए। जो नहीं खाते हों उन्हें जबरन खिलाए। मुर्गे खिलाएगी, बकरे खिलाएगी और जो कुछ बनेगा वो खिलाएगी। भारत के जो संस्कार हैं, उनमें मांसाहार निषेध है। हम जबरन किसी को नहीं खिला सकते।"

उन्होंने आगे कहा, "अगर बचपन से ही हम उन्हें ये सिखाएंगे तब तो बड़े होकर पता नहीं वो गोश्त तो खाएंगे ही साथ ही नरभक्षी भी न हो जाएं। मैं तो वर्ण से ब्राह्मण हूं इसलिए कभी लहसुन-प्याज भी नहीं खाया लेकिन मैं इतना कहना चाहता हूं कि ये प्रवृत्ति ठीक नहीं है। हम किसी को जबरन खान-पान के मामले में बाध्य नहीं कर सकते हैं।"

अंडा वैकल्पिक है, अनिवार्य नहीं है: जीतू पटवारी

इससे पहले मंत्री जीतू पटवारी ने आंगनवाड़ियों में मिड-डे मील (Midday Meal) में अंडा दिए जाने के बीजेपी के विरोध पर कहा कि अंडा अनिवार्य नहीं किया जाएगा। बच्चों के मां-बाप से पूछकर ही अंडा खिलाया जाएगा। किसी को जबरदस्ती अंडा नहीं खिलाया जाएगा। जीतू पटवारी ने यह बयान इंदौर में मध्यप्रदेश स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित समारोह के दौरान मीडिया से चर्चा करते हुए दिया।