Loading...

दादा कोर्ट में चौकीदार, पिता ड्राइवर और बेटा जज बन गया | INDORE NEWS

भोपाल। इंदौर जिला न्यायालय में हरिराम बजाद चौकीदार थे। उनके बेटे गोवर्धनलाल बजाद इसी कोर्ट में ड्राइवर बने और अब उनका बेटा चेतन बजाद जज बन गया है। चेतन ने civil judge class-II recruitment test क्रैक कर लिया है। 

जबलपुर स्थित मध्य प्रदेश कोर्ट के एग्जाम सेंटर ने प्रोविजनल सेलेक्शन लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट के मुताबिक, चेतन बजाद ने OBC कैटेगिरी से civil judge class-II recruitment test में 13वीं रैंक हासिल की। उन्होंने लिखित परीक्षा और इंटरव्यू में 450 में से 275.5 नंबर हासिल किए।

चेतन बजाद ने कहा, उन्होंने टेस्ट क्लियर कर अपने पिता का सपना पूरा किया।' चेतन ने एक न्यूज एजेंसी से बातचीत में कहा, 'मेरे पिता गोवर्धनलाल बजाद इंदौर जिला अदालत में ड्राइवर हैं। मेरे दादा हरिराम बजाद उसी अदालत में चौकीदार थे, वे वहीं से रिटायर हुए। अपने तीन बेटों में से एक को जज देखना पिता का सपना है। मैंने उनका सपना पूरा किया।'

पिता को अपना आदर्श बताते हुए बजाद ने कहा, उन्होंने लॉ में ग्रेजुएशन किया और चौथे प्रयास में civil judge class-II recruitment exam में चयनित हुए। उन्होंने कहा कि जज की कुर्सी पर बैठने के बाद मेरी प्राथमिकता है कि लोगों को जल्द से जल्द न्याय दिलाऊं।