Loading...

तीन साल की मासूम फोन पर बोली "नाना, पापा-मम्मी मर गए" | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। शहर के 13वीं बटालियन कंपू के पीछे रहने वाले एक दंपती के शव सुबह उनके घर से बरामद किए गए। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार कंपू 12 बीघा माधौगंज थाना क्षेत्र के 13वीं बटालियन में रहने वाले सतेंद्र सिंह चौहान और उनकी पत्नी अंशु चौहान (Satendra Singh Chauhan and his wife Anshu Chauhan) का शव दंपती के घर से ही बरामद किया गया है।

पुलिस को मृतक के ससुर ने बताया कि सुबह जब उन्होंने बेटी को फोन किया तो उनकी तीन साल की बेटी अंशिका ने फोन उठाया और बोली पापा मम्मी मर गए हैं। जिसके बाद वह रोने लगी। आनन फानन में नाना तुंरत ही मौके पर पहुंचे और पुलिस को भी जानकारी दी। जब पुलिस और नाना मौके पर पहुंचे तो घर के सभी दरवाजे अंदर से बंद थे। बाद में पुलिस ने दरवाजे को तोड़कर घर के अंदर प्रवेश किया तो वह दंपती की बॉडी को देखकर हैरान हो गए। क्योकि दोनों के बॉडी खून से सनी हुई थी। जिससे ऐसा लगता है कि किसी ने मर्डर किया है। लेकिन पुलिस ने अभी कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है। 

बताया जा रहा है कि पति और पत्नी में किसी बात को लेकर विवाद चल रहा था,जिसके चलते पति सतेंद्र ङ्क्षसह चौहान ने पहले पत्नी अंशु चौहान को गोली मार दी फिर खुद को गोली मार ली। जिससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। मृतक की तीन साल की एक बेटी भी है। हालांकि अभी किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं मिली है कि यह सुसाइड है या फिर किसी ने मर्डर किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मृतक के ससुर ने पुलिस को बताया कि सुबह बेटी से बात करने के लिए फोन लगाया गया था तो फोन उनकी तीन साल की बेटी ने उठाया। जिसने उन्हें बताया कि नाना मम्मी और पापा मर गए है। जिसके बाद वह रोने लगी। बाद में किसी तरह उसे समझाया और तुंरत ही आने की बात कही गई।