Loading...

TATA SKY PACKAGES सस्ते हुए, सब्सक्राइबर्स के लिए गुडन्यूज

नई दिल्ली। ट्राई द्वारा लागू किए गए नए टैरिफ नियमों के बाद चैनल्स के बढ़े सब्सक्रिप्शन चार्ज से सब्सक्राइबर्स काफी परेशान थे। हालांकि, पिछले कुछ दिनों से सब्सक्राइबर्स के लिए डीटीएच सर्विसेज से जुड़ी अच्छी खबरें आ रही हैं। इसी कड़ी में अब जो ताजा खबर आई है उसके मुताबिक देश के सबसे बड़े डीटीएच ऑपरेटर टाटा स्काई ने ब्रॉडकास्टर्स द्वारा 19 रुपये से घटाकर 12 रुपये किए गए चैनल सब्सक्रिप्शन चार्ज को लागू कर दिया है।

SD चैनल्स के सब्सक्रिप्शन चार्ज घटे

टाटा स्काई पर अभी केवल SD चैनल्स को घटी हुई कीमतों के साथ उपलब्ध कराया जा रहा है। HD चैनल देखने के लिए आपको पुरानी कीमत पर ही सब्सक्रिप्शन लेना होगा। कीमत कम होने के बाद अगर सब्सक्राइबर किसी चार चैनल का चुनाव करते हैं, तो उन्हें अब सीधे 28 रुपये का फायदा होगा। बता दे कि हाल ही में देश के कई बड़े ब्रॉडकास्टर्स जैसे स्टार इंडिया, वायाकॉम 18, जी एंटरटेनमेंट और सोनी पिक्चर्स ने अपने चुनिंदा चैनल्स के सब्सक्रिप्शन चार्ज को 19 रुपये से घटा कर अब 12 रुपये प्रति माह कर दिया है।

नई सब्सक्रिप्शन चार्ज हुए लागू

इस खबर के आने के बाद से सब्सक्राइबर के मन में यह सवाल था कि घटी हुई कीमतों को कब से लागू किया जाएगा? टेलिकॉम टॉक की एक रिपोर्ट के मुताबिक टाटा स्काई ने चैनल सब्सक्रिप्शन की नई दरों को लागू कर दिया है। टाटा स्काई सब्सक्राइबर्स अब चैनल सिलेक्शन प्रोसेस में जाकर नई दरों पर अपना पसंदीदा चैनल सब्सक्राइब करा सकते हैं।

क्यों घटाए गए सब्सक्रिप्शन चार्ज

बताया जा रहा है कि ट्राई जल्द ही ब्रॉडकास्टर्स द्वारा ऑफर किए जाने वाला चैनल पैक्स के लिए एक डिस्काउंट कैप लाने की तैयारी कर रहा है। नए टैरिफ नियम के आने के बाद ब्रॉडकास्टर्स द्वारा ऑफर किए जाने डिस्काउंटेड चैनल पैक्स के खिलाफ ट्राई ने डिस्काउंट कैप लाने का फैसला किया है। डिस्काउंटेड चैनल पैक्स के कारण सब्सक्राइबर्स को जबरदस्ती वे चैनल भी ऑफर किए जाते हैं जिन्हें वे देखना नहीं चाहते।

ट्राई के कैपिंग रूल के लागू होने के बाद चैनल पैक में छूट के साथ ऑफर किए जाने वाले चैनल को अलग से चुनने पर पैक की कीमत से 15% से अधिक का चार्ज नहीं लिया जा सकेगा। आसान भाषा में समझें तो अगर चैनल पैक में किसी चैनल की कीमत 6 रुपये है तो उसे अलग से सब्सक्राइब कराने के लिए 6.9 रुपये से ज्यादा नहीं देना होगा। इससे माना जा रहा है कि सब्सक्राइबर्स के लिए टीवी देखना पहले से सस्ता हो जाएगा।