Loading...

SAGAR के आरक्षक ने RAISEN में खुद को गोली मार ली, मौत

भोपाल। इन दिनों सोशल मीडिया पर पुलिस आरक्षकों की नौकरी में आने वाली परेशानियों का जिक्र करते हुए कमलनाथ सरकार से 2800 ग्रेडपे की मांग की जा रही है। इसी बीच रायसेन से खबर आ रही है कि ड्यूटी से लौटे एक पुलिस आरक्षक ने खुद को गोली मार ली। 

पुलिस सूत्रों के अनुसार गैरतगंज थाने में पदस्थ आरक्षक शहजाद सागर जिले के बरारू का रहने वाला था जो रायसेन जिले के गैरतगंज थाने में पदस्थ था। वहीं किराए के मकान धनगांव रोड पर रहता था। आरक्षक कल रात्रि गश्त के बाद तडके चार बजे घर लौटा था। 

सरकारी रायफल उसके साथी आरक्षक की थी। साथी आरक्षक सुबह सेविंग कराने गया। इसी दौरान शहजाद ने खुद को गोली मार ली। पुलिस विभाग में वरिष्ठ अधिकारियों की प्रताड़ना के मामले अक्सर सामने आते रहते हैं। ज्यादातर मामले दबे रहते हैं क्योंकि वरिष्ठ अधिकारी अपने खिलाफ होने वाली शिकायत को अनुशासनहीनता बताकर शिकायतकर्ता के खिलाफ ही कार्रवाई कर देते हैं।