Loading...

मोदी की भतीजी का पर्स चुराने वाले पकड़े लेकिन दिल्ली पुलिस का शनि भारी हो गया | DELHI MODI KI BHATIJI

नई दिल्ली। 12 अक्टूबर शनिवार से दिल्ली पुलिस पर शनि भारी हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी दमयंती बेन का पर्स चोरी हुआ। हालांकि दिल्ली पुलिस पर्स स्नेचर्स को पकड़ लाई लेकिन इस बीच भतीजी ने बयान दे दिया कि 'दिल्ली में क्राइम बहुत है।' भारत में भतीजी तो बेटी से ज्यादा लाड़ली होती है। इसलिए दिल्ली पुलिस आज देशभर के टारगेट पर है। मीडिया हाउस तथ्य पेश कर रहे हैं और सोशल मीडिया पर दिल्ली पुलिस की भरपूर निंदा की जा रही है। 

मैं ताऊ से कहूंगी दिल्ली में गुजरात जैसा सिस्टम बनाएं

दिल्ली पुलिस ने नबी करीम इलाके से दो आरोपियों नोनू उर्फ गौरव और नदीम उर्फ बादल को गिरफ्तार कर लिया। लूटा गया माल भी बरामद कर लिया गया है। इससे पहले भतीजी दमयंती बेन ने कहा- ‘‘गुजरात के मुकाबले दिल्ली में क्राइम ज्यादा है। मैं ताऊ से कहूंगी कि यहां भी गुजरात जैसी कानून-व्यवस्था लागू करें। दिल्ली में महिलाओं को ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। लेकिन दिल्ली पुलिस ने मेरी पूरी मदद की। जबकि पुलिस को नहीं पता था कि मैं पीएम की भतीजी हूं। 

प्रहलाद मोदी की बेटी हैं दमयंती

गुजराती समाज भवन में आने वाला हर कोई वीवीआईपी नहीं होता है। हम लोग एक सामान्य आदमी की तरह ही गुजराती समाज भवन में 6 घंटे रुकने आए थे।’’ दमयंती के पिता प्रह्ललाद मोदी ने कहा कि हम सामान्य जीवन जीते हैं और कानून से चलते हैं। इस मामले को प्रधानमंत्री से बताने की जरूरत नहीं है, हो सके तो कानून तेजी से अपना काम करें।

दिल्ली में महिलाओं के मोबाइल-पर्स और चेन निशाने पर

दिल्ली में इस साल 15 सितंबर तक 4,516 झपटमारी की वारदातें हुईं। जिनमें बदमाशों ने पर्स, मोबाइल व बैग झपट लिए। हालांकि, आधे से ज्यादा केस पुलिस ने सुलझा भी लिए। पिछले साल झपटमारी का यही ग्राफ इस समय तक 4,707 केस पर अटका हुआ था, तब पुलिस ने करीब पचास फीसदी मामले सुलझा लेने का दावा किया था। महिलाएं झपटमारी के लिए सबसे सॉफ्ट टारगेट हैं।

दमयंती से लूट के डेढ़ घंटे बाद सामने आया फुटेज

पुलिस जांच में पता चला है एक आरोपी सदर बाजार इलाके का रहने वाला है, जबकि दूसरा सुल्तानपुरी एरिया में किराए के मकान में रहता है। झपटमारी की वारदात करने के बाद आरोपी पहाड़गंज के मुल्तानी ढांडा इलाके में गए थे।