Loading...    
   


कलेक्टर ने जप्त किया था अवैध रेत भंडार, BJP MLA के रिश्तेदार लूट ले गए

हाेशंगाबाद। भारतीय जनता पार्टी के विधायक विजयपाल सिंह के करीबी रिश्तेदार मोटा सेठ और शिशुपाल राजपूत, बंटी पासी और दीपक जयसवाल पर आरोप है कि वह कलेक्टर द्वारा जप्त किए गए अवैध रेत भंडार को लूट कर ले गए। पुलिस ने उनके खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज किया है। बता दें कि कलेक्टर ने 300 घनमीटर अवैध रेत पकड़ी थी आरोपी 200 घनमीटर अवैध रेत चुरा ले गए। याद दिला दें कि कलेक्टर शीलेंद्र सिंह का अवैध रेत से बड़ा गहरा रिश्ता है। पिछले दिनों एसडीएम ने आरोप लगाया था कि रेत के अवैध रेत के कारोबार को बचाने के लिए कलेक्टर ने उन्हें बंधक बनाकर रखा।

पुलिस ने रात 1:00 बजे मामला दर्ज किया

बांद्राभान स्कूल के पास से चार दिन पहले कलेक्टर शीलेंद्र सिंह द्वारा जब्त किए गए अवैध स्टाॅक से रेत चुराने पर पुलिस ने भाजपा विधायक विजयपाल सिंह के करीबी रिश्तेदार मुट्‌टा सेठ उर्फ शिशुपाल राजपूत, बंटी पासी और दीपक जैसवाल पर केस दर्ज किया है। जब्त 300 घनमीटर में से करीब 200 घनमीटर चुराई गई। बुधवार देर रात 1.10 बजे पुलिस ने तीनों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है।

रॉयल्टी भाजपा विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा के भतीजे के नाम मिली

शिकायतकर्ता अमित चौहान ने पुलिस को बताया प्रशासन ने 17 अक्टूबर को इस रेत के अवैध स्टॉक को जब्त किया था और इसकी सुपुर्दगी शिवम इंटप्राइजेस खदान को सौंपी थी। 21 अक्टूबर को यह रेत सलामत थी लेकिन इसके बाद बीती रात आरोपी मुट्‌टा सेठ, बंटी पासी और दीपक जैसवाल चार डंपर एमपी05जी8001, एमपी05जी- 8024, एमपी05जी- 8122, एमपी05जी- 8022 लेकर आए। इन्हें देखकर मैं डरकर छुप गया और ये 200 घनमीटर रेत चुराकर ले गए। एमपी05जी8122 को स्टॉक से भरते समय पकड़ा जिसकी रायल्टी वैभव शर्मा के स्टॉक की पाई गई थी। गौरतलब है कि वैभव भाजपा के अन्य विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा के भतीजे हैं।

कंप्यूटर बाबा ने भी नजर अंदाज कर दिया था

जिले में 16 अक्टूबर को दौरे पर आए कंप्यूटर बाबा बांद्राभान में लगे रेत का अवैध स्टॉक की अनदेखी कर गए थे। कलेक्टर को सूचना मिली तो अगले दिन 17 अक्टूबर उसे जब्त किया। खनिज विभाग के अधिकारियों ने स्टॉक की जब्त की। इसके बावजूद रेत स्टॉक से रेत चोरी हो गई। इसके बाद से ही प्रशासन चिंतित था लेकिन कलेक्टर ने साफ कर दिया कि आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज होगी ही।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here