Loading...

अब बलूचिस्तान आजाद होगा, भारत मदद करेगा, अमेरिका में परचम लहराया | SUPPORT BALOCHISTAN

नई दिल्ली। लम्बे इंतजार, हजारों कुर्बानियों और अमानवीय प्रताड़नाओं के बाद अंतत: बलूचिस्तान की आजादी का वक्त नजदीक आता नजर आ रहा है। पहली बार अमेरिका की आसमां पर बलूचिस्तान की आवाज गूंजती सुनाई दी। कहने की जरूरत नहीं कि पाकिस्तान के खिलाफ बलूचिस्तान की लड़ाई में भारत हमेशा की तरह बलूचिस्तान के साथ रहेगा। 

बलूचिस्तान के विमान ने स्टैचू ऑफ लिबर्टी के ऊपर उड़ान भरी

पाकिस्तान की सरकार किस कदर मानवाधिकारों का उल्लंघन कर रही है, इसकी झलक आज पूरी दुनिया देख रही है। संयुक्त राज्य अमेरिका में एक विमान ने स्टैचू ऑफ लिबर्टी के ऊपर उड़ान भरते हुए एक गंभीर संदेश छोड़ा है। यह संदेश बलूचिस्तान को पाकिस्तान का था, यह संदेश बलूचिस्तान की आजादी का था, यह संदेश बलूचिस्तान में हो रहे मानवाधिकारों का उल्लंघन, यह संदेश का मतलब यूएन से मदद मांगना था। स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी के चारों ओर उड़ा विमान, सिर्फ संदेश यह, 'बलूचिस्तान में मानवाधिकारों की रक्षा के लिए यूएन करे मदद।'

पहले भी आवाज उठाता रहा है बलूचिस्तान

ऐसा पहली बार नहीं है जब बलूचिस्तान ने अपनी आवाज पूरी दुनिया तक पहुंचाई हो और मदद मांगी हो। इंग्लैंड एवं वेल्स में जारी आइसीसी विश्व कप 2019 के दौरान भी राजनीतिक संदेश फैलाने की घटना सामने आई थी। एजबेस्टन क्रिकेट ग्राउंड में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच दूसरे सेमीफाइनल के दौरान स्टेडियम के ऊपर से एक प्लेन निकला, जिस पर एक बैनर टंगा था और उस पर लिखा था विश्व को बलूचिस्तान के लिए आवाज उठानी चाहिए।

पाकिस्तान मानवता पर धब्बा है

सेंट्रल काउंसिल मेंबर ऑफ फ्री बलूचिस्तान मूवमेंट के नेता शम्स बलोच ने शुक्रवार को इमरान खान पर आरोप लगाते हुए कहा कि हमारा मकसद पाकिस्तान के असली चेहरे को सामने लाना है। इससे दुनिया को पता चलेगा कि पाकिस्तान मानवता पर धब्बा है। न्यूयॉर्क में शम्स बलोच ने कहा कि शक्ति का इस्तेमाल करके पाकिस्तान ने बलूचिस्तान पर नियंत्रण हासिल किया है। पाकिस्तान न केवल भारत, अफगानिस्तान और बलूचिस्तान के लिए बल्कि पूरी दुनिया और मानवता के लिए एक वायरस है।

बलूचिस्‍तान में महिलाओं से दुष्‍कर्म कर रहे पाकिस्‍तानी फौजी

बलूच नेता मेहरान मारी ने हाल में पाकिस्‍तानी फौज द्वारा बलूचिस्‍तान में किए जा रहे बर्बर अत्‍याचारों की पोल खोली था। मारी ने लंदन में कहा था कि पाकिस्तानी सेना के जवान बलूचिस्‍तान में महिलाओं के साथ दुष्‍कर्म करते हैं और सरेआम बेगुनाह लोगों को गोलियों से छलनी कर देते हैं।