Loading...

भारत के 63% प्रोफेशनल्स आलसी हैं, वजन बढ़ा रहे हैं | 63% of India's professionals are lazy

नई दिल्ली। फिटनेस लेवल ऑफ काॅर्पोरेट इंडिया ने एक रिसर्च रिपोर्ट जारी की है। उसने दावा किया है कि भारत के 63% प्रोफेशनल्स आलसी हैं और अपना वजन बढ़ा रहे हैं। इनका बॉडी मास इंडेक्स 23 से अधिक है। सर्वेयर कंपनी का कहना है कि 20 कंपनियों के करीब 60 हजार प्रोफेशनल्स के मोबाइल में एक एप डाला गया और चुपके से उनकी सारी गतिविधियों की जांच की गई। हालांकि यह रिसर्च रिपोर्ट मोटापा घटाने वाली कंपनियों के लिए फायदेमंद है लेकिन यह एक और संकेत देती है कि आने वाले दिनों में करीब 50% प्रोफेशनल्स अपना काम करने में पूरी तरह फिट नहीं रह जाएंगे। या तो खुद रिटायर हो जाएंगे या उन्हे नौकरी से निकाल दिया जाएगा। 

12 महीने चली रिसर्च

शोध में दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, कोलकाता और हैदराबाद जैसे बड़े शहरों के प्रोफेशनल्स को शामिल किया गया। रिसर्च के दौरान इनका खानपान, बीमारियों और सेहत का अध्ययन किया गया। सभी प्रोफेशनल्स हेल्दीफाईमी के 12 महीने तक चले वेलनेस प्रोग्राम का हिस्सा थे। ये सभी एक दिन में कितने कदम चलते हैं, इसे भी जाना गया।

प्रोफेशनल्स आलसी हो गए हैं, वजन बढ़ा रहे हैं

शोध में सामने आया कि कंज्यूमर गुड्स सेक्टर के प्रोफेशनल्स दिनभर में औसतन 5,988 कदम चलते हैं। वहीं, फाइनेंस सेक्टर के 4,969 और आईटी-मैन्युफैक्चरिंग के प्रोफेशनल्स प्रतिदिन 5000 कदम चलते हैं। शोध में चिंता जताई गई कि ज्यादातर प्रोफेशनल्स अपना आधा जीवन ऑफिस में बिता रहे हैं और सक्रिय भी नहीं है। नतीजा अधिक शारीरिक वजन के रूप में सामने आ रहा है।

फिटनेस : रोजाना 300 और वीकेंड पर 250 कैलोरी बर्न करते हैं

शोध में सामने आया है कि ज्यादातर भारतीय प्रोफेशनल्स वीकेंड पर आलसी हो जाते हैं और फिजिकली एक्टिव भी नहीं रहते। वर्कआउट करना बहुत कम पसंद करते हैं। वे रोजाना 300 कैलोरी बर्न करते हैं, वहीं वीकेंड पर यह आंकड़ा 250 हो जाता है। 

डाइट : खानपान में फैट और कार्बोहाइड्रेट जरूरत से अधिक

शोध के मुताबिक, भारतीय प्रोफेशनल्स के खानपान में फैट और कार्बोहाइड्रेट अधिक शामिल करते हैं, जो उन्हें मोटा बना रहा है। नाश्ते में शामिल फैट से उन्हें 29.8 फीसदी एनर्जी मिलती है। वहीं, लंच से 25.62 फीसदी और डिनर में 25.90 फीसदी फैट होता है। लेकिन भारतीयों में सबसे ज्यादा फैट 33.71 फीसदी स्नैक्स से पहुंचता है। जो ओवरवेट होने की मुख्य वजह है। इनके नाश्ते में प्रोटीन 17.31 %, लंच में 14.3 % होता है। वहीं, डिनर में प्रोटीन का लेवल ज्यादा 17.31 फीसदी होता है।

अवेयरनेस : प्रोटीन लेने में कोलकाता के प्रोफेशनल आगे

डाइट में प्रोटीन लेने के मामले में कोलकाता के लोग सबसे आगे हैं। इसके बाद दिल्ली, बेंगलुरु और मुंबई शामिल है। इसके उलट नॉन-मेट्रो शहरों में लोग फैट अधिक लेते हैं। एफएमसीजी सेक्टर में काम करने वाले लोग 16.38 फीसदी और कंज्यूमर गुड्स सेक्टर से जुड़े प्रोफेशनल 16.03 फीसदी प्रोटीन लेते हैं। वहीं, मार्केटिंग सेक्टर में काम कर रहे लोग डाइट में प्रोटीन कम (16.03 फीसदी) होता है।

वर्कआउट : रनिंग ज्यादातर प्रोफेशनल्स की पहली पसंद

रिसर्च के मुताबिक, महिला हो या पुरुष फिट रहने के लिए ज्यादातर प्रोफेशनलस का पसंदीदा वर्कआउट रनिंग है। इसके बाद वे साइक्लिंग, जिम वर्कआउट और स्वीमिंग को तवज्जो देते हैं। वहीं, महिला प्रोफेशनल्स फिट रहने के लिए इंडोर एक्टिविटी जैसे योग को रूटीन में शामिल करती हैं।