Loading...

IIITBHOPAL के स्टूडेंट्स आधी रात, बादलों के नीचे जिद पर डटे हैं

भोपाल। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंफार्मेशन टेक्नोलाजी (ट्रिपल आईटी) के छात्र अब जिद पर अड़ गए हैं। खराब मौसम में खुले आसमान के नीचे वो धरे पर बैठे हुए हैं। यह प्रबंधन के लिए अत्यंत ही जोखिम भरा है, यदि कहीं कोई हादसा हुआ तो प्रबंधन जवाब नहीं दे पाएगा। 

लगातार चल रहे विरोध प्रदर्शन और इंचार्ज डायरेक्टर एनएस रघुवंशी से बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकलने के बाद अब प्रबंधन ने अभिभावकों को मैसेज व फोन कर धमकाना शुरू कर दिया है। प्रबंधन ने साजिश रचते हुए गुरुवार को होने वाला मिनी टेस्ट एक दिन पहले करते हुए अब बुधवार को कर दिया गया है, ताकि छात्र एक दिन पहले ही परीक्षा में उलझ जाए। इसकी सूचना भी किसी छात्र को नहीं दी गई है, बल्कि उनके अभिभावकों को फोन कर यह सूचना दी गई लेकिन प्रबंधन की यह साजिश भी फेल हो गईं 

छात्रों में और भी ज्यादा रोष का माहौल


प्रबंधन के इस तरह के बर्ताव से छात्रों में और भी ज्यादा रोष का माहौल निर्मित हो गया है। बता दें कि शुक्रवार को होने वाले टेस्ट भी एक दिन पहले कर दिए गए है। छात्रों का कहना है कि अधिकारी उनकी मांगों का निराकरण तो कर नहीं रहे हैं उल्टा परिजनों को फोन कर धमका रहे है। ऐसे में अब हमने तय कर लिया है कि जब तक मांगों का निराकरण नहीं हो जाता है तब तक हम कक्षाओं में वापस नहीं लौटेंगे।