Loading...

पी चिदंबरम गिरफ्तार, प्रेस कॉन्फ्रेंस से निकलकर घर गए थे, CBI उठा ले गई | VIDEO

नई दिल्ली। पी चिदंबरम को उनके दिल्ली के जोरबाग स्थित घर से जांच एजेंसी ने गिरफ्तार कर लिया है। इसके पहले चिदंबरम कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे। यहां उन्होंने कहा कि वे आईएनएक्स मीडिया केस में निर्दोष हैं। इसी बीच उन्हें गिरफ्तार करने सीबीआई टीम वहां पहुंच गई। टीम जब तक पार्टी मुख्यालय पहुंची चिदंबरम वहां से निकलकर जोरबाग स्थित अपने घर पहुंच गए। 

जांच एजेंसी ने उनके घर की दीवार फांदकर चिदंबरम को गिरफ्तार कर लिया। चिदंबरम के खिलाफ आईएनएक्स मीडिया केस में लुकआउट सर्कुलर जारी किया गया है। चिदंबरम ने लगभग पांच मिनट तक मीडिया को संबोधित कर अपनी बात रखी। चिदंबरम के घर के बाहर कुछ लोगों के बीच झड़प भी हुई। इससे पहले कांग्रेस कार्यालय के बाहर समर्थकों ने जमकर सरकार विरोधी नारेबाजी की। 

पिछले 24 घंटों में जो कुछ हुआ, उससे कई लोगों को कन्फ्यूजन और चिंता हुई। मुझ पर या मेरे परिवार के किसी सदस्य पर किसी भी अपराध का आरोप नहीं लगाया गया है। ED और सीबीआई ने किसी भी सक्षम अदालत में चार्जशीट फाइल नहीं की है। मुझसे जीवन और आजादी (liberty) में से कोई एक चुनने को कहा जाए, तो मैं आजादी को चुनूंगा। संविधान का आर्टिकल 21 सबसे कीमती है। ये जीवन और आजादी (liberty) की गारंटी देता है। मुझे विश्वास है कि लोकतंत्र की बुनियाद आजादी (liberty) है। मुझे और मेरे बेटे कार्ति को फंसाया गया। मेरा नाम एफआईआर में दर्ज नहीं है। मैं आईएनएक्स मीडिया केस में आरोपी नहीं।

देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई पूर्व मंत्री पी चिदंबरम को खोजती रही। मंगलवार रात दिल्ली के जोर बाग स्थित उनके घर पर रात भर दबिश भी दी, लेकिन चिदंबरम नहीं मिले। आज सुप्रीम कोर्ट में दिनभर की माथापच्ची के बाद चिदंबरम को जब राहत नहीं मिली तो उन्होंने देर शाम एक बार प्रेस कॉन्फ्रेंस कर खुद को निर्दोष बताया। हालांकि, उन्होंने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में किसी सवाल का कोई जवाब नहीं दिया। प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के तमाम कद्दावर नेता गुलाम नबी आजाद, कपिल सिब्बल, सलमान खुर्शीद, अहमद पटेल मौजूद रहे। 

जिस समय चिदंबरम प्रेस को संबोधित कर रहे थे उस वक्त मुख्यालय अंदर-बाहर से बंद कर दिया गया था। कांग्रेस कार्यालय के चारों तरफ से मुख्य द्वार है, उसे भी बंद कर दिया गया था। इसका मकसद सीबीआई से बचना था। कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ के बीच चिदंबरम को सावधानी से बाहर निकाल दिया गया। मीडिया से बात करते हुए सलमान खुर्शीद ने कहा कि चिदंबरम पार्टी के एक मजबूत स्तंभ हैं। उनके खिलाफ झूठे आरोप लगाए गए हैं।